Home / व्यापार / यूजर्स कह रहे – ‘Rest In Peace’,18 साल तक Apple की पहचान रहा iTunes प्लेटफॉर्म बंद होगा

यूजर्स कह रहे – ‘Rest In Peace’,18 साल तक Apple की पहचान रहा iTunes प्लेटफॉर्म बंद होगा

9 जनवरी, 2001 को उस वक्त एपल के सीईओ रहे स्टीव जॉब्स ने स्टेज से आईट्यून्स की घोषणा की थी। म्यूजिक लवर्स के लिए ये काफी यूजफुल सर्विस थी। हालांकि 18 साल बाद कंपनी की वर्ल्डवाइड डेवलपर्स कॉन्फ्रेंस के दौरान इसे बंद करने का ऐलान कर दिया। कंपनी अब म्यूजिक सर्विस को म्यूजिक, पॉडकास्ट और टीवी ऐप्स के अलग-अलग फॉर्मेट में देगी। ये सभी ऐप्स एक ही ऑपरेटिंग सिस्टम कैटेलिना पर काम करेंगे, जो MacOS का हिस्सा होगा।

एपल की सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट क्रेग फेडरिघी ने WWDC इवेंट के दौरान बताया कि अब यूजर्स आईट्यून्स या म्यूजिक को लोड करने की जगह मैक फाइंडर का इस्तेमाल कर सकते हैं। आईट्यून्स का इस्तेमाल सबसे पहले आईपॉड्स पर किया गया था, जिसके बाद इसे आईफोन के लिए भी लॉन्च किया गया। हालांकि, 2011 के बाद से नए आईफोन यूजर्स आईट्यून्स पर एक्टिव नहीं हैं, और कुछ यूजर्स इसे सालों से सिर्फ देख रहे हैं। जिसके चलते इसे बंद करने का फैसला लिया गया।

MacOS कैटलिना

क्या है MacOS कैटलिना?

मैकओस के नए वर्जन 10.15 को कैटलिना नाम दिया गया है। इसने आईट्यून्स को डब्ड म्यूजिक से रिप्लेस किया है। इसमें आसान फाइंडिंग के साथ पॉडकास्ट ऐप और डॉल्बी एटम्स और डॉल्बी विजन सपोर्ट वाला एपल टीवी ऐप शामिल किया गया है। इसमें साइडकार नाम का ऐप दिया है, जो आईपैड पर दूसरे डिस्प्ले के रूप में यूज करने देता है। इसमें एसिस्टिव वॉयस कंट्रोल ऐड है। इस ओएस में एक्टिवेशन लॉक और फाइंड माय फीचर्स दिए हैं, जो मैकबुक चोरी होने पर उसे ढंढने में मदद करता है। प्रोजेक्ट कैटालिस्ट सिर्फ आईपैड ऐप्स के लिए है, लेकिन ये डेवलपर्स को इस बात की परमिशन देता है कि वे आसानी से आपने आईपैड ऐप्स को मैकओएस पर ओपन कर सकें।

iTunes बंद होने पर यूजर्स के रिएक्शन

WWDC 2019 के दौरान जैसे ही आईट्यून्स को बंद करने का ऐलान किया गया, उसके बाद से ही ट्विटर पर लोगों की तरफ से मजेदार रिएक्शन आ रहे हैं। वहीं, कुछ लोगो ने इसके लिए RIP तक लिख दिया।

Loading...

Check Also

जेट एयरवेज के संस्थापक नरेश गोयल के घर समेत कई जगहों पर ईडी ने मारा छापा

नई दिल्ली:प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने विदेशी विनिमय कानून के कथित उल्लंघन को लेकर जेट एयरवेज ...