Thursday , June 27 2019
Home / उत्तर प्रदेश / मोबाइल के वजह से काटना पड़ गया मासूम का हाथ, यदि आपके यहाँ भी है बच्चे तो हो जाइये सचेत

मोबाइल के वजह से काटना पड़ गया मासूम का हाथ, यदि आपके यहाँ भी है बच्चे तो हो जाइये सचेत

जौनपुर जिले में एक आठ साल के बच्चे को मोबाइल में गाना सुनना बहुत महंगा पड़ा। मोबाइल हिट होने से उसमें लगी बैटरी ब्लास्ट हो गई। उसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां बच्चे का प्राथमिक उपचार किया गया और वाराणसी ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया गया। घटना में बच्चे के दाहिने हाथ के चिथड़े उड़ गए। वहीं चेहरे, पेट सहित शरीर अन्य हिस्सों पर भी गहरे जख्म दिखाई दे रहे हैं।

डॉक्टर के अनुसार संक्रमण को रोकने के लिए बच्चे का हाथ काटा गया है। पूरा मामला मुगराबादशपुर थाना क्षेत्र का बताया जा रहा है। अगर आप चाइना मोबाइल का इस्तेमाल कर रहे हैं तो सावधान हो जाइए ऐसा हम इसलिए बोल रहे हैं क्योंकि ये मोबाइल दाम के हिसाब से काफी सस्ते होते हैं परंतु सेफ्टी के मामले में इनमें कुछ नही पाया जाता है। यहां तक कि इनसे रेडिएशन भी काफी अधिक मात्रा में निकलता है।

 

जिस हाथ से बच्चा खेलता था और मोबाइल चलाता था आज उसी हाथ को काटना पड़ा। वहीं इस बच्चे की माँ यह सोच सोच कर रो रही है कि काश वह अपने कलेजे के टुकड़े को मोबाइल ना दी होती। डॉक्टरों की मानें तो मोबाइल ब्लास्ट होने से बच्चे के हाथ की हड्डी पूरी तरह से खराब हो गई है। उसे प्राथमिक उपचार के बाद वाराणसी ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया गया जहां बच्चे के हाथ के पंजे को काटना पड़ा।

 

यह घटना उन लोगों के लिए भी एक सबक है जो अपने छोटे बच्चो को चुप कराने या खेलने के लिए मोबाइल थमा देते हैं। उन्हें इस बात की जरा भी भनक नही होती कि मोबाइल का रेडिएशन किस हद तक बच्चो के दिमाग को संकुचित कर देता है। जिस उम्र में बच्चो को खेलना चाहिए उस उम्र में बच्चे मोबाइल के लिए जिद्द करते हैं। यदि आपके यहाँ भी बच्चे हैं तो उनके सुखद भविष्य के लिए उन्हें आज से ही मोबाइल फोन जैसे चीजो से दूर रखें।

Loading...

Check Also

सपा के मुस्लिम वोट बैंक को अपनी ओर खींचने के लिए मायावती ने बिछाई बिसात

लखनऊ: समाजवादी पार्टी (सपा) से नाता तोड़ने के बाद अब बहुजन समाज पार्टी (बसपा) सुप्रीमो मायावती ...