Home / व्यापार / भारती इन्फ्राटेल, इंडस टावर्स के विलय को एनसीएलटी की मंजूरी

भारती इन्फ्राटेल, इंडस टावर्स के विलय को एनसीएलटी की मंजूरी

मुंबई : भारती इन्फ्राटेल ने बंबई शेयर बाजार से कहा कि एनसीएलटी की चंडीगढ़ पीठ ने 31 मई को जारी आदेश में इस विलय प्रस्ताव को मंजूरी दे दी। प्रस्तावित विलय से देश में एक विशाल टावर कंपनी अस्तित्व में आएगी। इस विलय के लिए दूरसंचार विभाग की मंजूरी भी लेनी होगी। पिछले साल भारती एयरटेल, वोडाफोन ग्रुप और आइडिया सेल्युलर ने विलय पर मंजूरी दी थी, जिससे चीन के बाहर दुनिया की सबसे बड़ी मोबाइल टावर कंपनी अस्तित्व में आएगी।इस विशाल टावर कंपनी के पास 22 दूरसंचार सर्किलों में 1.63 लाख टावर होंगे।

Loading...

Check Also

जेट एयरवेज के संस्थापक नरेश गोयल के घर समेत कई जगहों पर ईडी ने मारा छापा

नई दिल्ली:प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने विदेशी विनिमय कानून के कथित उल्लंघन को लेकर जेट एयरवेज ...