Home / हेल्थ &फिटनेस / भाग-दौड़ भरी ज़िंदगी में उड़द दाल का सेवन करना क्यों है जरूरी

भाग-दौड़ भरी ज़िंदगी में उड़द दाल का सेवन करना क्यों है जरूरी

उड़द एक दलहन होता है और इसका तासीर भी ठंडा होता है, इसलिए उड़द दाल को घी में हींग का छौंक डालकर बनाया जाता है. इसमें जो अनगिनत गुण होते हैं वह न सिर्फ खाना को स्वादिष्ट ही बनाता है वरन् कई तरह के बीमारियों के लिए वरदान जैसा साबित होता है. आज हम आपको उड़द दाल के कई फायदे बताएँगे.

उड़द दाल के फायदे

1. सिरदर्द में फायदेमंद उड़द दाल 50 ग्राम उड़द को 100 मिली दूध में पकाकर उसमें घी डालकर खाने से वात के कारण जो सिर दर्द होता है उससे राहत मिलती है.

2. रूसी से छुटकारा दिलाये उड़द दाल को जलाकर उसकी भस्म बनाकर, उसमें चतुर्थांश अर्कदूध तथा सरसों तेल मिलाकर लेप बना लें. इसको सिर पर लगाने से सिर के रोग, गंजापन, बालों की सफेदी आदि कम होती है.

3. लीवर का सूजन करे कम उड़द दाल उड़द का जूस बनाकर 10-20 मिली की मात्रा में सेवन कराने से लीवर की बीमारियों से राहत मिलती है.

4. जोड़ों के दर्द में फायदेमंद उड़द दाल प्रतिदिन उड़द, कपिकच्छु, एरण्ड तथा बलामूल से बने 10-20 मिली काढ़ा में हींग तथा सेंधा नमक मिलाकर पीने से वात की बीमारी कम होती है.

5. अल्सर में फायदेमंद उड़द दाल कभी-कभी अल्सर का घाव सूखने में बहुत देर लगता है या फिर सूखने पर पास ही दूसरा घाव निकल आता है, ऐसे में उड़द की दाल का प्रयोग बहुत ही फायदेमंद होता है. उड़द को पीसकर घाव/ व्रण के ऊपर बांधने से पीब निकल जाता है तथा घाव ठीक हो जाता है.

6. बुखार से दिलाये राहत उड़द दाल अगर मौसम के बदलने के वजह से या किसी संक्रमण के कारण बुखार हुआ है तो उसके लक्षणों से राहत दिलाने में उड़द की दाल बहुत मदद करती है. उड़द का जूस बनाकर 10-20 मिली मात्रा में सेवन करने से बुखार कम होता है.

Loading...

Check Also

आपकी दीवानगी पार्टनर के सिर चढ़कर बोलेगी , जरूर करें ये ‘किस’

आजकल इश्क कहो या सेक्स लेकिन दोनों की स्थितियों में आगे बढ़ने की जो पहली ...