loading...
Loading...

नई दिल्ली : भारतीय सेना के एक ब्रिगेडियर को कर्नल रैंक के एक अधिकारी की पत्नी के साथ अनैतिक रिश्ते बनाने के अपराध में ४ साल वरिष्ठता खोने तथा कड़ी फटकार की सज़ा सुनाई है। ब्रिगेडियर के कबूलनामे के बाद सेना की जनरल कोर्ट मार्शल (जीसीएम) ने उनकी वरिष्ठता को ४ साल कम कर दिए जाने तथा कड़ी फटकार की सज़ा सुनाई है।

प.बंगाल के बिनागुड़ी में जीसीएम ने कोर्ट मार्शल किए जाने योग्य इस अपराध के लिए सुनवाई की, जिसकी सदारत जनरल ऑफिसर कमांडिंग ने की, तथा सुनवाई के दौरान ब्रिगेडियर रैंक के छह अन्य अधिकारी भी मौजूद थे। ब्रिगेडियर तथा कर्नल की पत्नी के बीच रिश्ता उस समय बना था, जब वह सिक्किम में ब्रिगेड की कमान संभाल रहे थे, और माउंटेन डिवीज़न से जुड़े थे।

सेना की ईस्टर्न कमांड में मौजूद सूत्रों ने कहा कि एक बयान में जानकारी दी गई है कि आरोपी ब्रिगेडियर ने अपराध कबूल किया था, और संभवतः इसी कारण से उन्हें तुलनात्मक रूप से हल्की सज़ा दी। गौरतलब है कि मिलते-जुलते अपराध के लिए एक वरिष्ठ अधिकारी को ५ साल बामशक्कत कैद की सज़ा सुनाई गई थी।