Home / देश / बांग्लादेश से लगी सीमा के रास्ते भारत में नकली नोट भेज रही है आईएसआई और डी कंपनी

बांग्लादेश से लगी सीमा के रास्ते भारत में नकली नोट भेज रही है आईएसआई और डी कंपनी

नई दिल्ली : भारत के पूर्वी सीमावर्ती क्षेत्रों से बड़े पैमाने पर नकली नोटों की आमद हो रही है। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने खुलासा किया है कि पाक खुफिया एजेंसी आईएसआई और डी-कंपनी की सांठगांठ से देश में नकली नोटों की बड़े पैमाने पर आपूर्ति की जा रही है। नकली नोटों के इस कारोबार को संभालने वाले दाउद के गुर्गे यूनुस अंसारी की नेपाल में गिरफ्तारी के बाद इस रहस्य पर से पर्दा उठा है। अंसारी के आईएसआई और दाउद इब्राहिम से करीबी रिश्ते हैं। वह नकली नोटों के इस काले कारोबार का सबसे बड़ा खिलाड़ी है। अंसारी के साथ-साथ तीन पाकिस्तानी नागरिकों को गिरफ्तार किया गया है, जिनकी पहचान मुहम्मद अख्तर, नादिया अनवर और नसीरुद्दीन के रूप में की गई।

एक अधिकारी ने बताया गिरफ्तारी के समय अंसारी और उसके सहयोगियों के पास से सात करोड़ रुपए मूल्य के नकली नोट बरामद हुए। अंसारी की गिरफ्तारी से यह भी पता चला है कि अब नेपाल के रास्ते भारत में नकली नोट नहीं भेजे जा रहे हैं। एनआईए की जांच में सामने आया है कि वे अब बांग्लादेश से लगती भारत की पूर्वी सीमा से नकली नोट भारत में ला रहे हैं। हाल ही में पश्चिम बंगाल के एक आदमी को 10 लाख रुपए मूल्य के नकली नोटों के साथ आनंद विहार रेलवे स्टेशन से दबोचा गया था। पूछताछ के दौरान आरोपी ने स्वीकार किया कि नकली नोट बांग्लादेश में छापे गए थे। उसे राष्ट्रीय राजधानी में खपाने के लिए दिल्ली लाया गया था।

Loading...

Check Also

ISIS मॉड्यूल का पता लगाने का मामला: NIA ने तिरुनेलवेली के दो ठिकानों पर मारा छापा

तिरुनेलवेली :तमिलनाडु में आईएसआईएस मॉड्यूल का पता लगाने के मामले में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ...