Wednesday , December 19 2018
Home / उत्तर प्रदेश / बहुचर्चित जयराम हत्याकांड का पुलिस ने किया खुलासा, दो अभियुक्त गिरफ्तार

बहुचर्चित जयराम हत्याकांड का पुलिस ने किया खुलासा, दो अभियुक्त गिरफ्तार

मुहम्मद नईम

पडरौना कुशीनगर। आज दिनांक 8.12.2018 को पुलिस अधीक्षक उत्तरी गौरव वंशवाल व क्षेत्राधिकारी सदर नितेश प्रताप सिंह के नेतृत्व में अपराध एंव अपराधियों के विरुध्द चलाये जा रहे अभियान के क्रम में जनपद की स्वाटए प्रभारी निरीक्षक थाना कसया व थाना को0 पड़रौना पुलिस टीम द्वारा, मु0अ0सं0 545/18  धारा -302,120बी,504 भादवि व 3(2)5 SC/ST ACT से सम्बन्धित अभियुक्तों गोलु मिश्रा उर्फ अनुराग मिश्रा पुत्र अरविन्द मिश्रा साकिन दुधही थाना विशुनपुरा मनोज शर्मा पुत्र सुरेन्द्र शर्मा साकिन दुधही थाना विशुनपुरा जनपद कुशीनगर को थाना को0 पड़रौना क्षेत्रान्तर्गत  पुलिस मुठभेड़ में गिरफ्तार किया गया अन्य एक अभियुक्त मौक से फरार हो गया।

गिरफ्तार अभियुक्तो के पास से घटना में प्रयुक्त एक अदद मोटर साईकिल अपाची UP 57 Z 7073 तथा अभियुक्त मनोज शर्मा के पास से 1 अदद तमन्चा 315 बोर व 01 अदद खोखा कारतूस व एक अदद जिन्दा कारतूस 315 बोर बरामद किया गया। अभियुक्तों से कड़ाई से पूछताछ की गयी तो अभियुक्तों द्वारा दिनांक 19.11.18 को CMO आफिस रविन्द्र नगर के पास जयराम गौंड़ की हत्या करना स्वीकार किया गया तथा अभियुक्त गोलू द्वारा गुप्ती मारना व मनोज द्वारा गाड़ी चलाया जाना बताया गया है, अभियुक्तगण के निशादेही पर हत्या में प्रयुक्त आलाकत्ल (गुप्ती) बरामद किया गया।  बता दें कि दिनांक 19-11-2018 की सांम भिसवा सरकारी थाना को0 पड़रौना निवासी जयराम गौंड की कुछ बदमाशों द्वारा हत्या कर दी गयी थी जिसके सम्बन्ध में मृतक के पुत्र सन्तोष गौंड द्वारा 08 व्यक्तियों के विरुध्द नामजद अभियोग मु0अ0सं0 545/18  धारा -302,120बी,504 भादवि व 3(2)5 SC/ST ACT पंजीकृत कराया गया था जिसमें पुलिस द्वारा गहराई से छानबीन कर इलेक्ट्रानिक सर्विलांस व मुखबिर के सहयोग से पतारसी कर घटना में नामजद अभियुक्तों से भिन्न अभियुक्तों का नाम प्रकाश में आया जिसके आधार पर उपरोक्त अभियुक्तों की गिरफ्तारी की गयी। अभियुक्तों द्वारा बताया गया कि विगत वर्ष में वृजेश तिवारी की हत्या के सम्बन्ध में वादी का भाई मन्तोष गौंड व रुपक राय आरोपी थे, तथा मन्तोष जमानत पर है, रुपक राय द्वारा मन्तोष के पिता की हत्या कराकर वृजेश तिवारी के परिजनों को नामजद कराकर सुलह हेतु दबाब बनाना चाहता था। बरामदगी व गिरफ्तारी के आधार पर थाना स्थानीय पर आवश्यक विधिक कार्यवाही की जा रही है।गिरफ्तारी व बरामद करने वाली टीम में प्रभारी निरीक्षक विजयराज सिंह थाना कोतवाली पडरौना, प्रभारी निरीक्षक सुशील शुक्ला थाना कसया, उ0नि0 नागेन्द्र सिंह थाना कोतवाली पडरौना,  प्रभारी स्वाट टीम श्याम लाल यादव, उ0नि0 विकास यादव स्वाट टीम, का0 रविन्द्र यादव थाना कोतवाली पडरौना, का0 विकास यादव थाना कोतवाली पडरौना, हे0का0  मुबारक खां स्वाट टीम, हे0का0 रणविजय सिंह स्वाट टीम,का0 अशोक सिंह स्वाट टीम, का0 मनोज यादव स्वाट टीम, का0 रणजीत यादव स्वाट टीम, का0 शशिकेश गोस्वामी स्वाट टीम, का0 शिवानन्द सिंह स्वाट टीम, का0 अमित सिंह थाना विशुनपुरा, का0चालक काशीनाथ सिंह थाना कोतवाली पडरौना. का0 चन्द्रभान वर्मा सर्विलांस सेल कुशीनगर, कम्प्यूटर आपरेटर सुशील सिंह सर्विलांस सेल कुशीनगर मौजूद रहे।

 

Loading...

Check Also

धरना स्थल पर पहुँच कर आज 22वें दिन उपजिलाधिकारी द्वारा भाकियू (भानु) का लिया गया ज्ञापन

प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री को सम्बोधित ज्ञापन सौपकर एक सप्ताह में मिल चलवाने की घोषणा न ...