Sunday , March 24 2019
Home / home / प्रियंका के यूपी दौरे पर असमंजस के बादल, कार्यकर्ताओं का उत्साह ढ़ीला

प्रियंका के यूपी दौरे पर असमंजस के बादल, कार्यकर्ताओं का उत्साह ढ़ीला

लखनऊ :यूपी में बेजान पड़ी कांग्रेस पार्टी में नई जान फूंकने के लिए मैदान में उतरा गया लेकिन उनके लगातार रद्द होते दौरों से कार्यकर्ताओं में निराशा है। लोकसभा चुनाव के लिए सभी दलों ने कमर कस ली है सपा-बसपा गठबंधन अपनी रणनीतियां बना रहा है लेकिन गठबंधन में शामिल होने की आस लगाये बैठी कांग्रेस को झटका मिलने के बाद भी उसकी तैयारियां शून्य ही नजर आ रही हैं।

करीब महीने भर के इंतजार के बाद प्रियंका गांधी का यूपी दौरे का कार्यक्रम तय हुआ था कि 17 से 20 मार्च तक प्रियंका गांधी यूपी में होंगी इस दौरान वो इलाहाबाद से वाराणसी तक की यात्रा करेंगी। सबसे दिलचस्प ये है कि इस यात्रा के दौरान गंगा पर प्रियंका की स्टीमर भी चलेगी। आखिरी दिन वाराणसी में प्रियंका कार्यकर्ताओं के साथ होली भी खेलेंगी। इसको लेकर कार्यकर्ताओं में खासा उत्साह था।

लेकिन प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर ने आज ट्वीट किया, प्रियंका गांधी जी अभी आयी भी नहीं कि उनके लम्बे-चौड़े प्रोग्राम आ गए। मान्यवरों, प्रियंका जी के प्रोग्राम की पूरी रूपरेखा अभी तैयार हो रही है एवं प्रशासन के समक्ष भी जा रही है। जल्द ही आप सबको सूचित किया जाएगा।

दूसरी ओर सुरक्षा एजेंसियों से गंगा में स्टीमर से यात्रा के दौरान सुरक्षा को लेकर भी चिंता जताई है और प्रशासन से फुलप्रूफ प्लान मांगा है। बता दें कि प्रियंका गांधी को एसपीजी सुरक्षा मिली हुई है।

कई बार रद्द हुआ दौरा

प्रियंका को कल यानि 17 मार्च को लखनऊ आना था और उसके बाद उत्तर प्रदेश में 20 तारीख तक लगातार उनके कार्यक्रम होने थे। लेकिन अब इसपर एक बार फिर असमंजस दिखा रहा है। ये चौथी बार है जब प्रियंका का दौरा रद्द होने की कगार पर है। इससे पहले कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष आरपी त्रिपाठी की तरफ से एक सूची जारी की गई थी जिसमें 18 मार्च से प्रियंका के कार्यक्रम का पूरा ब्योरा प्रियंका इससे पहले 11 फरवरी को पहली बार यूपी दौरे पर आई थीं। इस दौरान उन्होंने लखनऊ में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और पश्चिमी यूपी के प्रभारी ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ रोड शो किया था। इसके बाद उन्होंने लोकसभा सीटवार कार्यकर्ताओं के साथ बैठक भी की थी लेकिन फिर प्रियंका के यूपी दौरे की कई बार खबरें आईं लेकिन हर बार दौरा रद्द कर दिया गया। इससे पहले भी उन्हें 14 मार्च को यूपी दौरे पर आना था लेकिन किसी कारणवश दौरा रद्द हो गया।

मोदी को घेरने के प्लान पर ग्रहण

उधर, प्रयागराज से वाराणसी तक जलमार्ग से यात्रा करने के बहाने गंगा की दुर्दशा को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को घेरने के प्रियंका के प्लान पर भी फिलहाल ग्रहण लगता दिख रहा है। सुरक्ष एजेंसियों से प्रयागराज से वाराणसी तक सौ किमी की दूरी से ज्यादा गंगा में स्टीमर से यात्रा के दौरान सुरक्षा को लेकर चिंता जताई है।

यही नहीं, सुरक्षा एजेंसियों ने प्रयागराज के साथ मीरजापुर, जौनपुर और वाराणसी जिला प्रशासन से सुरक्षा को लेकर फुलप्रूफ प्लान मांगा है। चुनाव आयोग से प्रियंका गांधी के इस दौरे को लेकर अनुमति मांगने के बाद सुरक्षा एजेंसियों के हरकत में आने के बाद प्रशासन सक्रिय हो गया है। प्रशासनिक सूत्रों का कहना है एसपीजी ने जलमार्ग से इतनी लंबी यात्रा को लेकर सुरक्षा पर कई बिंदुओं को लेकर रिपोर्ट मांगी है।

‘जानबूझकर उड़ाई जा रही अफवाह’

वहीं वाराणसी में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता प्रफेसर सतीश राय व शैलेंद्र सिंह ने इसे खारिज किया और कहा कि प्रियंका के दौरे को स्थगित करने की खबर विपक्षी खेमे की ओर से जानबूझकर साजिश के तहत उड़ाई जा रही है। उन्होंने कहा, ‘काशी में घबराए हुए पीएम मोदी के समर्थकों द्वारा वायरल साजिशन समाचारों से कांग्रेस कार्यकर्ताओं को भ्रमित नहीं होने की जरूरत है। प्रियंका गांधी का यात्रा कार्यक्रम और शनिवार को तैयारी बैठक यथावत है।’

Loading...

Check Also

जिलाधिकारी के भतीजी की असामयिक मृत्यु पश्चात शोक सभा का आयोजन

मुहम्मद नईम कुशीनगर आज दिनांक 23 मार्च 19 शनिवार को जिलाधिकारी के भतीजी की असामयिक ...