Home / Home / प्रियंका की गिरफ्तारी पर राहुल गांधी का आया बयान, मची सियासी हलचल

प्रियंका की गिरफ्तारी पर राहुल गांधी का आया बयान, मची सियासी हलचल

उत्तर प्रदेश में कांग्रेस की जमीन तैयार करने में जुटी प्रियंका गांधी वाड्रा ने सोनभद्र में जमीन विवाद मामले में राज्य की योगी आदित्यनाथ सरकार को घेरा है. सोनभद्र में जमीन विवाद में तीन महिलाओं समेत 10 लोगों की हत्या कर दी गई थी. पीड़ित परिवार से मिलने सोनभद्र जा रहीं प्रियंका का काफिला रोका गया, धरने पर बैठीं तो पुलिस उन्हें गेस्ट हाउस ले गई. अब इस पर राहुल गांधी ने करारा हमला बोला है…

कांग्रेस के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे चुके राहुल गांधी ने उत्तर प्रदेश के सोनभद्र में जमीन विवाद के कारण हुए हत्याकांड पीड़ितों से मिलने जाने के क्रम में प्रियंका गांधी की गिरफ्तारी पर करारा हमला बोला है। उनके निशाने पर भारतीय जनता पार्टी की योगी आदित्यनाथ सरकार है। राहुल गांधी ने कहा कि यूपी के सोनभद्र में प्रियंका की अवैध गिरफ्तारी परेशान करने वाली है। सत्ता की यह मनमानी है। 10 आदिवासी किसानों के परिवारों को अपनी जमीन खाली करने से इंकार करने पर क्रूरता से गोली मार दी जाती है। इसको रोकने के लिए कोई नहीं पहुंचता है। उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार में लोगों के बीच बढ़ती असुरक्षा का यह घटना खुलासा करती है।

 

राहुल गांधी के बयान के बाद कांग्रेसी गर्म हैं। किसान कांग्रेस ने प्रदर्शन का फैसला किया है। इससे पहले कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने शुक्रवार को वाराणसी के एक अस्पताल में सोनभद्र हत्याकांड में जख्मी हुए लोगों से मुलाकात की। वे सड़क मार्ग से सोनभद्र रवाना हुईं, लेकिन पुलिस-प्रशासन के अधिकारियों ने उनके काफिले को नारायणपुर में रोक दिया। इसके बाद प्रियंका सड़क पर धरने पर बैठ गईं। उन्होंने कहा कि मैं सिर्फ चार लोगों के साथ पीड़ित परिवारों से मिलना चाहती हूं। मुझे रोकने और गिरफ्तार करने के लिए पुलिस को ऊपर से फोन आया है।

 

इसके बाद अधिकारी प्रियंका गांधी और कुछ कांग्रेस नेताओं को सरकारी गाड़ी में बैठाकर मिर्जापुर स्थित चुनार गेस्ट हाउस ले गए। प्रियंका यहां भी कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ धरने पर बैठ गईं। उन्होंने कहा कि मैं सोनभद्र जाए बगैर नहीं लौटूंगी। पुलिस के आला अफसरों ने कहा है कि प्रियंका को गिरफ्तार नहीं किया गया है। कानून व्यवस्था को देखते हुए सोनभद्र में धारा 144 लागू है। यहां के घोरावल इलाके में 17 जुलाई को जमीन विवाद में 10 लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी।

 

पुलिस मुख्य आरोपी ग्राम प्रधान यज्ञदत्त भोर्तिया समेत 27 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है। सोनभद्र जाते वक्त प्रियंका के काफिले को वाराणसी सीमा के भीतर उन्हें रोक लिया गया। इसके बाद वे वहीं धरने पर बैठ गईं। प्रियंका ने इससे पहले ट्रॉमा सेंटर से निकलते समय मीडिया से कहा कि उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था बहुत खराब है। अपराधियों के हौसले बुलंद हैं, लेकिन पूरा सरकारी अमला सो रहा है। उन्होंने यह सवाल भी किया कि क्या उत्तर प्रदेश ऐसे अपराधमुक्त बनेगा?

Loading...

Check Also

फर्रुखाबाद फालोअप: ट्राली बैंग में मिली महिला की लाश के मामले में पुलिस के हाथ खाली

फर्रुखाबाद। ट्राली बैंग में महिला की हत्या कर शव ट्रेन में फेंक देनें के मामले ...