Monday , October 22 2018
Home / Featured / प्रदर्शनकारियों को काबू में करने के लिए सुरक्षाबलों ने दागे आंसू गैस के गोले

प्रदर्शनकारियों को काबू में करने के लिए सुरक्षाबलों ने दागे आंसू गैस के गोले

कुपवाड़ा:जम्मू-कश्मीर में सीमावर्ती जिले कुपवाड़ा में हिजबुल मुजाहिद्दीन के दो आतंकवादियों के मारे जाने के विरोध में प्रदर्शन कर रहे लोगों को तितर बितर करने के लिए सुरक्षा बलों ने शुक्रवार को आंसू गैस के गोले छोड़े और लाठी चार्ज किया। प्रशासन ने जिले में कानून की धारा 144 के तहत प्रतिबंध लगाया हुआ है, मोबाइल इंटरनेट सेवा और शैक्षणिक संस्थान गुरुवार से ही बंद है। पीएचडी शोधार्थी से आतंकवादी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर बनने का सफर तय करने वाला मन्नान वानी और उसके सहयोगी के कुपवाड़ा के हंदवारा में सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में मारे जाने के बाद हालात बिगड़े हैं।


काफी संख्या में लोगों विशेष रूप से युवा लालपोरा और लोलाब समेत कई अन्य जगहों पर प्रतिबंध का उल्लंघन सडक़ों पर उतर आये। सुरक्षा बलों तथा कानून व्यवस्था बनाये रखने के लिए तैनात पुलिस के साथ इन प्रदर्शनकारियों की जोरदार झड़पें हुईं। सुरक्षाबलों ने लाठी चार्ज कर पथराव कर रहे प्रदर्शनकारियों को नियंत्रित करने का प्रयास किया लेकिन इसका उनपर कोई असर नहीं हुआ। बाद में सुरक्षा बलों ने समूह बनाकर पथराव कर रहे प्रदर्शनकारियों को खदेडऩे के लिए आंसू गैसे के गोले दागे। आतंकवादियों के मारे जाने के बाद इसकेे विरोधस्वरूप अलगाववादियों की हड़ताल के आह्वान के कारण कुपवाड़ा समेत जिले में व्यावसायिक और अन्य गतिविधियां दूसरे दिन शुक्रवार को भी बाधित रही।

Loading...

Check Also

60 साल बाद भी बसाव की राह ताक रहे भाखड़ा विस्थापित

बिलासपुर:पड़ोसी राज्यों को रोशन करने वाले भाखड़ा विस्थापित आज भी अपने बसाव की राह ताक ...