Monday , June 17 2019
Home / Home / प्रचंड गर्मी से झुलसा देश, 48 घंटे बाद केरल में मानसून की होगी दस्तक

प्रचंड गर्मी से झुलसा देश, 48 घंटे बाद केरल में मानसून की होगी दस्तक

नई दिल्ली: प्रचंड गर्मी से पूरा देश झुलस रहा है। भीषण गर्मी का कहर ने लोगों का जीना मुहाल कर रखा है। दिल्ली, बिहार और उत्तर प्रदेश समेत कई राज्यों में हाहाकार मचा है। हालांकि, कई जगहों पर गर्मी से थोड़ी राहत की भी खबर है। मौसम की जानकारी रखने वाली एजेंसी के अनुसार अगले 48 घंटों के अंदर केरल में मॉनसून पहुंच सकता है। हालांकि, इस साल मानसून कमजोर रहेगा। वहीं, दिल्ली और इसके आस-पास के क्षेत्रों के लिए मानसून की सामान्य तिथियां जून के अंतिम सप्ताह में हैं, लेकिन इसमें 10-15 दिनों की देरी भी हो सकती है।

यह पिछले 65 वर्षों में दूसरा सबसे सूखा साल है। प्री-मानसून के लिए सामान्य वर्षा 131.5 मिमी है, जबकि जो दर्ज की गई है वो 99 मिमी है। बता दें कि देश के कई हिस्सों में भीषण गर्मी पड़ रही है और कुछ हिस्सों हिस्सों में पारा 50 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया है। ऐसे में मानसून की दस्तक लोगों के लिए किसी बड़ी राहत से कम नहीं है। उत्तर प्रदेश की राजधानी समेत आस-पास के क्षेत्रों में बुधवार को सुबह से उमस भरी गर्मी बनी हुई है। बुधवार को लखनऊ का न्यूनतम तापमान 35 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। लखनऊ मौसम विज्ञान केन्द्र के मुताबिक, पश्चिमी उप्र में 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से धूल भरी आंधी चलने और हल्की फुहारें पड़ने की संभावना जताई गई है। मौसम विभाग ने अपने पूवार्नुमान में कहा है कि बुधवार और गुरुवार को पूर्वी और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के आसपास के क्षेत्रों में तापमान में वृद्घि की जा सकती है।

पश्चिमी उप्र के कुछ जिलों में आंशिक बादल छाए रहेंगे तथा कुछ इलाकों में बारिश भी हो सकती है। मौसम विभाग के अनुसार, राजधानी लखनऊ का न्यूनतम तापमान 35 डिग्री सेल्सियस, आगरा का 39 डिग्री, गोरखपुर 33 डिग्री, अलीगढ़ का 38 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। वहीं, मंगलवार को प्रदेश में सबसे गरम स्थान झांसी रहा, जहां का तापमान सामान्य से 3 डिग्री अधिक 45.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया और लखनऊ और आस-पास के क्षेत्र में अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस के आस-पास दर्ज किया गया।

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल सहित राज्य के अन्य हिस्सों में तेज धूप और भीषण गर्मी है। राज्य में सबसे अधिकतम तापमान 47 डिग्री सेल्सियस दमोह में दर्ज किया गया है। राज्य में बुधवार की सुबह से गर्मी का असर बना हुआ है। तेज धूप है, जो पसीना बहा रही है। मौसम विभाग के अनुसार, मानसून पूर्व की गतिविधियां नहीं हैं और नमी नहीं आ रही। वहीं राजस्थान की ओर से गर्म हवाएं आ रही हैं, जिससे तापमान और गर्मी का असर बना हुआ है। राज्य के अधिकांश हिस्सों का अधिकतम तापमान 44 से 45 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है। अधिकतम तापमान दमोह में 47 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। मौसम विभाग ने आगामी 24 घंटों में गर्मी का असर बने रहने की संभावना जताई है।

राज्य में गर्मी चुभन पैदा कर रही है। बुधवार को भोपाल का न्यूनतम तापमान 31.2 डिग्री सेल्सियस, इंदौर का 28.3 डिग्री सेल्सियस, ग्वालियर का 29.1 डिग्री सेल्सियस और जबलपुर का न्यूनतम तापमान 29.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। वहीं, मंगलवार को भोपाल का अधिकतम तापमान 44.4 डिग्री सेल्सियस, इंदौर का 41.7 डिग्री सेल्सियस, ग्वालियर का 44.8 डिग्री सेल्सियस और जबलपुर का अधिकतम तापमान 43.6 डिग्री सेल्सियस रहा।

बिहार की राजधानी पटना तथा इसके आसपास के क्षेत्रों में बुधवार को आंशिक बादल छाए हुए हैं, जिस कारण धूप-छांव का खेल जारी है। इस बीच हालांकि तापमान में मामूली वृद्घि दर्ज की गई है। राजधानी पटना का बुधवार को न्यूनतम तापमान 27.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। पटना मौसम विज्ञान केंद्र ने अपने पूवार्नुमान में कहा है कि अगले दो-तीन दिनों से राज्यवासियों को उमस भरी गर्मी से राहत मिलने की उम्मीद नहीं है। इस दौरान तापमान में भी वृद्घि दर्ज की जा सकती है।

राज्य के अन्य शहरों में गया का बुधवार को न्यूनतम तापमान 29.2 डिग्री सेल्सियस, भागलपुर का 26.4 डिग्री तथा पूर्णिया का 25.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। राजधानी पटना का बुधवार को अधिकतम तापमान भी 39 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने के आसार हैं। मंगलवार को पटना का अधिकतम तापमान 38.6 डिग्री सेल्सियस तथा न्यूनतम तापमान 27.6 डिग्री सेलिसयस दर्ज किया गया था।

Loading...