Home / Home / पहला तलाक 2 लाख का; दूसरा 4 लाख का, तीसरी को लिखकर दिया तलाक लिया तो 10 लाख रुपए दूंगा

पहला तलाक 2 लाख का; दूसरा 4 लाख का, तीसरी को लिखकर दिया तलाक लिया तो 10 लाख रुपए दूंगा

होशियारपुर . थाना चब्बेवाल के बस्सी कलां गांव का पलविंदर सिंह (35) बुधवार काे तीसरी शादी कर रहा था। दाे फेरे ले चुका था तभी दूसरी पत्नी पुलिस लेकर पहुंच गई अाैर हंगामा शुरू कर दिया। दाे फेराें के बाद पुलिस ने शादी रुकवा दी अाैर पलविंदर के परिजनाें काे थाने ले गई। वहां दूसरी पत्नी ने कहा कि तलाक अधूरा है क्याेंिक मुझे 4 लाख में से केवल 2 लाख रुपए ही मिले हैं।

इस पर पलविंदर के परिवार ने कहा कि बाकी के 2 लाख देने की तारीख तो 21 अगस्त है। हम उसके पहले ही हम दे देंगे। इसके बाद दूसरी पत्नी मान गई। पलविंदर का परिवार वापस पहुंचा और शादी के बचे फेरे लेने को कहा तो होने वाली तीसरी पत्नी बोली-हमें दो शादियाें की जानकारी नहीं दी गई। भविष्य में मेरे साथ एेसा हुआ ताे क्या करूंगी। इस पर पति ने लिखकर दिया कि वह एेसा नहीं करेगा। यदि एेसा हुआ तो 10 लाख रुपए दूंगा। फिर 5 घंटे बाद अानंद कारज हुअा अाैर बाकी के बचे 2 फेरे लिए।

तीसरी शादी }होशियारपुर के बस्सी कलां के पलविंदर की तीसरी शादी में 5 घंटे हंगामा

जालंधर की रहने वाली है सुखविंदर कौर…बुधवार सुबह 11 बजे गांव पचरंगा (जालंधर) की सुखविंदर कौर ने चब्बेवाल थाने में शिकायत दी कि उसका पति दूसरी शादी कर रहा है। मेरी शादी 2014 में गांव रंधावा बरोटा (होशियारपुर) के पलविंदर से हुई थी। शादी के बाद वह दुबई चला गया। 2017 में लौटा तो मारपीट करने लगा। तलाक का केस करने पर कोर्ट ने पति को 4 लाख देकर तलाक लेने काे कहा। पलविंदर ने दाे लाख दे दिए और दूसरी किस्त 21 अगस्त को देनी थी उससे पहले ही उसका वह चुपके से शादी रचा रहा था। थाना चब्बेवाल के एसएचओ नरिंदर कुमार ने बताया कि दोनों पक्षों में समझौता हो गया है।

दूसरी पत्नी ने तीसरी का दर्द समझा : सुखविंदर कौर ने कहा कि मैं उस युवती की हालत समझ सकती हूं। वह बहुत दुखी होगी। उसका दुखी होना लाजिमी है क्योंकि दो फेरों के बाद उसका आनंद कारज रुक गया। उसके दुख को समझती हूं। सुखविंदर कौर ने बताया कि वह तो पलविंदर को सबक सिखाना चाहती थी लेकिन बस्सी कलां की वह लड़की जिसके साथ पलविंदर सिंह ने दो फेरे ले लिए हैं उसके जीवन पर जीवन भर यह दाग लगा रह जाएगा कि उसके दो ही फेरे हुए थे और वह मनहूस है। इसलिए मैं सहमति जताते हुए केवल अपनी रकम की ही मांग की और पति को शादी की मंजूरी दे दी। वहीं, पलविंदर का कहना है कि वह शादी कर रहा था लेकिन उसने पहले ही तय कर लिया था कि 21 अगस्त से पहले तलाक की बची 2 लाख की रकम दे देनी है।

पंचायत ने तैयार कराया इकरारनामा…दूसरी पत्नी से समझौता होने पर बस्सी कलां की लड़की का परिवार और लड़की खुद बिफर गई। बोली-पहले हुई शादियों की जानकारी नहीं दी गई। इस नए विवाद को सुलझाने को पंचायत ने एक इकरारनामा तैयार कराया। लिखा अगर पलविंदर अपनी नई दुल्हन के साथ कुछ गलत व्यवहार करता है तो वह कानूनी तौर पर पुलिस या अदालत जा सकती है। पलविंदर को अपनी पत्नी को इसके एवज में 10 लाख रुपए देने होंगे। इसके बाद बाद शाम 4 बजे दूल्हा-दुल्हन का आनंद कारज हुआ।

Loading...

Check Also

वीरभूमि बुन्देलखंड में लोक परम्पराओं के नृत्य अब बने अतीत

हमीरपुर :  वीरभूमि बुन्देलखंड में लोक नृत्यों का लोक जीवन में बड़ा ही महत्व हैं। ...