Friday , March 22 2019
Home / home / पंजाब में DRUGS सप्लाई की चेन तोड़ी, STF कर रही है अपना काम: कैप्टन

पंजाब में DRUGS सप्लाई की चेन तोड़ी, STF कर रही है अपना काम: कैप्टन

चंडीगढ़:मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह ने कहा कि सरकार पंजाब में नशे को रोकने के लिए हर संभव कदम उठा रही है। हमने DRUGS सप्लाई की चेन तोड़ी है, यदि नशे में शामिल बड़े नाम सरकार को कोई भी देगा, उनको जरूर पकड़ेंगे। उन्होंने कहा कि राज्य में नशा खत्म करने के लिए बनाई गई STF अपना काम कर रही है। राज्य में अभी तक 21039 केस दर्ज किए गए हैं। 25092 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। जबकि 556 किग्रा हेरोइन बरामद की गई है। वह बुधवार को बजट सत्र में बोल रहे थे। कैप्टन ने शिरोमणि अकाली दल पर निशाना साधते हुए कहा कि विपक्ष अपनी जिम्मेदारी नहीं समझता। बेवजह सदन में नारेबाजी कर सदन का माहौल खराब करने की कोशिश करता है। उन्होंने राज्य की आर्थिक हालत की जानकारी देते हुए बताया कि जब कांग्रेस सत्ता से बाहर हुई थी तो, 40 हजार करोड़ का कर्जा अकाली-भाजपा सरकार के लिए छोड़ कर गई थी, जबकि सत्ता में वापिस आने के बाद 2 लाख 17 हजार करोड़ का कर्जा कांग्रेस सरकार को विरासत में मिला।

मुख्यमंत्री ने कहा कि विपक्ष का कहना है कि कांग्रेस के विधायकों को पांच-पांच करोड़ रुपए उनके इलाकों को विकास के लिए दिए जा रहे हैं। उन्होंने सप्ष्ट किया कि यह धनराशि जिला उपायुक्तों को सब डिवीजन लेवल पर विकास करने के लिए आवंटित की गई है। इस मुद्दे पर विपक्षी विधायक जनता को गुमराह करने की कोशिश कर रहे हैं। कानून व्यवस्था के बारे में जानकारी देते हुए कैप्टन ने बताया कि अकाली-भाजपा राज में कानून व्यवस्था पूरी तरह से चरमरा चुकी थी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार ने राज्य से 1442 गैंगस्टरों को खत्म किया है और आतंकियों के 20 मॉड‍यूल्स का पर्दाफाश किया है। किसानों की कर्जमाफी की जानकारी देते हुए अमरेंद्र सिंह ने कहा कि कांग्रेस सरकार ने अभी तक किसानों के 4 हजार 736 करोड़ के कर्ज माफ कर दिए हैं।

सरकार अपनी आमदनी के हिसाब से किसानों के कर्ज माफ कर रही है।करतारपुर कॉरिडोर को लेकर मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह ने बड़ा बयान देते हुए कहा है कि इस रास्ते के लिए वीजा को मुद्दा नहीं बनाया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि यदि इसके लिए वीजा की ज़रूरत है तो फिर तो लोग वाघा बार्डर के द्वारा भी जा सकते हैं। उन्होंने कहा कि श्रद्धालुओं को रास्ते में से करतारपुर साहिब के दर्शनों के लिए जाने की इजाज़त दी जानी चाहिए और श्रद्धालुओं को पासपोर्ट से भी छूट होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि इसके लिए आधार कार्ड या कोई और पहचान पत्र को दिखाना लाज़िमी बनाया जा सकता है। कैप्टन ने कहा कि उनको इस बात की ख़ुशी है कि करतारपुर कॉरिडोर की बात आगे बढ़ी है।

Loading...

Check Also

कांग्रेस ने जारी की छठी सूची, महाराष्ट्र-केरल की नौ सीटों पर नाम घोषित

कांग्रेस ने लोकसभा चुनाव  के लिए अपनी छठी सूची जारी कर दी है। इस सूची ...