Home / हेल्थ &फिटनेस / नियमित जांगिंग से कर सकते हैं मोटापा कम

नियमित जांगिंग से कर सकते हैं मोटापा कम

पेइचिंग : अनुसंधानकर्ताओं ने कुछ ऐसी एक्सर्साइज खोज निकाली है जिसके जरिए मोटापे से जुड़े जेनेटिक इफेक्ट को भी कम किया जा सकेगा। इसी क्रम में अनुसंधानकर्ताओं ने पाया कि रेग्युलर जॉगिंग करना मोटापे की समस्या को दूर करने के लिए सबसे बेस्ट एक्सर्साइज है। जॉगिंग के अलावा माउंटेन क्लाइम्बिंग, वॉकिंग, पावर वॉकिंग, योग और कुछ डांस स्टाइल भी ऐसे हैं जिसके जरिए वैसे लोग जिनमें जीन्स के जरिए मोटापे का संकेत मिल जाता है उनके बॉडी मास इंडेक्स यानी बीएमआई को कम करने में मदद मिल सकती है।

आपको जानकर हैरानी होगी कि मोटापे के जेनेटिक असर को कम करने में स्विमिंग, साइक्लिंग और स्ट्रेचिंग एक्सर्साइज का कोई फायदा नजर नहीं आया। मोटापा एक चैलेजिंग सिचुएशन है क्योंकि इसमें किसी व्यक्ति के जेनेटिक्स और लाइफस्टाइल दोनों के बीच सामंजस्य बिठाना पड़ता है। डॉक्टर अक्सर मोटापा कम करने के लिए एक्सर्साइज करने की सलाह देते हैं लेकिन वैसे व्यक्ति जिनमें जेनेटिक रूप से मोटापा बढ़ने की आशंका होती है उन्हें किस तरह का एक्सर्साइज करना चाहिए इस बारे में डॉक्टरों ने कभी कोई बात नहीं कही। पीएलओएस जेनेटिक्स नाम के जर्नल में प्रकाशित इस स्टडी में नैशनल ताइवान यूनिवर्सिटी के अनुसंधानकर्ताओं ने 18 हजार 424 हैन चाइनीज वयस्कों की जांच की जिनकी उम्र 30 से 70 साल के बीच थी। इस दौरान हर व्यक्ति के जेनेटिक्स के साथ-साथ एक्सर्साइज रूटीन की भी जांच की गई।

इस दौरान अनुसंधानकर्ताओं ने हर वयस्क के मोटापा, बीएमआई, बॉडी फैट पर्सेंटेज और वेस्ट-हिप रेशियो की जांच की। साथ ही दूसरे मेटाबॉलिक प्रॉब्लम्स पर भी चर्चा की गई। अनुसंधानकर्ताओं ने कहा कि अगर आपके जेनेटिक्स में मोटापा है, तब भी आपको परेशान होने की जरूरत नहीं क्योंकि नियमित रूप से एक्सर्साइज कर मोटापे के असर को निश्चित रूप से कम किया जा सकता है। यहां बता दें कि बहुत से लोगों के जीन्स में ही मोटापे की समस्या होती है यानी वे चाहें या ना चाहें वंशानुगत होने की वजह से उनका वजन बढ़ने और मोटे होने का खतरा अधिक होता है। लेकिन जेनेटिक रूप से मोटापे की समस्या से ग्रसित लोगों को अब निराश होने की जरूरत नहीं।

Loading...

Check Also

पाएं आकर्षक लुक,अब हेयर कलर की जगह करें कलर चाक का इस्तेमाल

बालों का कलर करने का लड़कियों में एक अलग ही ट्रेंड है। आजकल अधिकतर लड़कियों ...