Saturday , July 20 2019
Home / बिहार / दो सहेलियों का प्यार-बेवफाई और मौत, जानिए अजब प्रेम की गजब कहानी

दो सहेलियों का प्यार-बेवफाई और मौत, जानिए अजब प्रेम की गजब कहानी

पटना:दो सहेलियों के बीच चल रहे प्रेम संबंध में एक सहेली ने परिवार के दबाव में आकर मां-बाप की पसंद के युवक से शादी रचा ली, जिससे दूसरी सहेली डिप्रेशन में चली गई और अंततः वह अपने प्यार को दूसरे के साथ देखकर इतनी ज्यादा परेशान हुई कि उसने जहर खाकर खुदकुशी कर ली।

मामला हाजीपुर जिले का है, जहां सदर इलाके की रहने वाली 38 साल की युवती को अपनी ही हमउम्र युवती से प्यार हो गया और दोनों का प्यार इस कदर परवान चढ़ा कि दोनों के परिजनों ने उनसे संबंध तोड़ लिया, लेकिन दोनों ने एक-दूसरे का साथ नहीं छोड़ा। इसके बाद एक सहेली ने संबंध तोड़कर लड़के से शादी कर ली। उसके बाद दिल टूटने पर दूसरी सहेली ने जहर खाकर खुदकुशी कर ली। इस घटना के बाद उसके परिजन परेशान हैं।

इस प्रेम संबंध की जानकारी पुलिस को तब हुई जब पीएमसीएच टीओपी प्रभारी अमित कुमार ने उसकी मौत के बाद परिजनों का बयान दर्ज किया। सीमा के परिजनों ने अपने बयान में साफ तौर पर कहा कि उसका एक अन्य युवती से कई साल से प्रेम संबंध था और दो दिन पहले ही उस युवती की शादी हो गयी। इसके बाद दूसरी युवती डिप्रेशन में थी।

परिजनों ने बताया कि वह इस बात को बर्दाश्त  नहीं कर सकी कि उसका प्यार किसी और का हो जाए और डिप्रेशन में आकर उसने जहर खाकर खुदकुशी कर ली है। यह घटना पटना  पुलिस के लिए भी एक तरह से नया मामला था।

परिजनों के मुताबिक, दोनों सहेलियों ने शादी भी नहीं की थी, लेकिन काफी साल से दोनों एक साथ ही रहती थीं और एक साथ जीने-मरने की कसमे भी खा ली थी। एक युवती के परिजनों ने शादी करने का दबाव बनाया तो उसने परिजनों की बात मानकर दो दिन पहले ही एक युवक से शादी कर ली। जब इसकी जानकारी दूसरी युवती को मिली तो वह डिप्रेशन में आ गयी और वह दिल्ली से भागकर हाजीपुर चली आयी।

घर आने के बाद उसने 9 जुलाई की रात जहर खा लिया। पुलिस को जानकारी मिली तो उसे तुरंत ही हाजीपुर सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया, लेकिन उसकी हालत खराब होने के बाद 10 जुलाई को पीएमसीएच लाया गया, जहां उसकी मौत हो गयी। इधर, पुलिस ने युवती के शव का पोस्टमॉर्टम कराने के बाद परिजनों के हवाले कर दिया।

16 साल से थे दोनों युवतियों के बीच प्रेम संबंध 

दोनों युवतियों का प्रेम संबंध 16 साल से था। दोनों साथ-साथ दिल्ली में रह रहीं थीं। उन दोनों के संबंधों की  जानकारी दोनों के परिजनों को भी थी और समाज में बदनामी के डर से दोनों के परिजनों ने अपनी-अपनी बेटियों से संबंध तोड़ लिया था।

कहा जा रहा है कि दोनों युवतियां अच्छे परिवार से थीं और पढ़ी-लिखी थीं। दोनों दिल्ली की एक निजी कंपनी में काम कर अच्छा वेतन उठाती थीं और दोनों दिल्ली  में एक ही फ्लैट में साथ में रहती थीं। परिवार द्वारा छोड़े जाने के बावजूद दोनों युवतियों के संबंधों में कोई कमी नहीं आयी थी, लेकिन परिजन दोनों से नाखुश थे और दोनों को काफी भला-बुरा कहते थे।

Loading...

Check Also

बिहार : तीन कथित मवेशी चोरों को ग्रामीणों ने पीट-पीटकर मौत के घाट उतारा

छपरा: सारण जिले के बनियापुर थाना क्षेत्र स्थित नंदलाल टोला पिठौरी गांव में शुक्रवार सुबह कथित तीन ...