Wednesday , July 24 2019
Home / हेल्थ &फिटनेस / देश के 46 फीसदी लोगों में पोषक तत्वों की कमीदेश के 46 फीसदी लोगों में पोषक तत्वों की कमी

देश के 46 फीसदी लोगों में पोषक तत्वों की कमीदेश के 46 फीसदी लोगों में पोषक तत्वों की कमी

नई दिल्ली: देश के 60 करोड़ लोग यानि 46 फीसदी लोग विभिन्न प्रकार के पोषक तत्वों की कमी से जूझ रहे हैं। हाल ही में हुए सर्वेक्षण मुताबिक देश की कुल आबादी में से आधे से अधिक लोग असंतुलित आहार लेते हैं। उनके भोजन में ताजे फल, सब्जियां, दालें, दुग्ध व अन्य पोषक खाद्य पदार्थ शामिल नहीं होते हैं। इसमें भी महिलाओं की संख्या अत्यधिक है। लोगों को पोषक आहार लेने के प्रति जागरूक करने के लिए लिए सरकार हर साल सितंबर के पहले सप्ताह में राष्ट्रीय सुपोषण सप्ताह मनाती है।

पिछले साल मार्च में आई एक रिपोर्ट में यह साफ हुआ कि जिन लोगों की दिनचर्या ठीक नहीं है या जिनकी नींद पूरी नहीं होती है, वे खाने की सुगंध के प्रति अधिक संवेदनशील होते हैं। ऐसे लोग पिज्जा, बर्गर, चॉकलेट, पॉपकॉर्न जैसे फास्ट फूड की तरफ आकर्षित होते हैं। यही वजह है कि आज की युवा पीढ़ी के सोने जागने का पैटर्न खराब होने के चलते वह पोषक आहार से दूर हो रही है और गंभीर बीमारियों की चपेट में आ रही है। लोगों की बदलती जीवनशैली के चलते देश में संक्रामक रोगों की अपेक्षा गैर- संक्रामक रोगों की संख्या बढ़ गई।

जिसके कारण बीमारियों में हृदय रोग, डायबिटीज, कैंसर, उच्च रक्तचाप की हिस्सेदारी बढ़ रही हैं। यह बीमारियां पोषण वाले आहार से परहेज और फास्ट फूड अधिक खाने की वजह से होती हैं। इनमें प्रोटीन, विटामिन, लौह और अन्य खनिज शामिल हैं। इसके चलते ये आबादी शारीरिक कमजोरी, मानसिक तनाव और थकान की शिकार रहती है। इन जरूरी पोषक तत्वों की कमी की वजह से बच्चों का मानसिक विकास नहीं हो पाता। वे किसी चीज में ध्यान केंद्रित नहीं कर पाते।

Loading...

Check Also

आपको कर देंगे हैरान काजू खाने के ये 5 फायदे

काजू के फायदे बहुत सारे होते है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि काजू भी ...