Home / विदेश / तूफान क्रोसा के चलते 126 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलीं, 4 लाख लोग सुरक्षित स्थानों पर भेजे

तूफान क्रोसा के चलते 126 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलीं, 4 लाख लोग सुरक्षित स्थानों पर भेजे

टोक्यो. पश्चिमी जापान के तट पर गुरुवार को शक्तिशाली तूफान क्रोसा टकराया। प्रशासनिक अधिकारियों ने आशंका के मद्देनजर करीब 4.3 लाख लोगों को सुरक्षित स्थानों पर जाने का आदेश दिया। तूफान के कारण 126 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलीं और भारी बारिश हुई। अधिकारियों ने भूस्खलन और बाढ़ की चेतावनी जारी की थी। लोगों को यात्रा न करने के भी निर्देश जारी किए गए। 800 से ज्यादा घरेलू उड़ानें रद्द कर दी गईं। पश्चिमी जापान में बुलेट ट्रेन सेवा को भी रोकना पड़ा।

मौसम विभाग के मुताबिक, तूफान क्रोसा चक्रवात बनने की प्रक्रिया से सिर्फ एक बिंदु ही कम था। स्थानीय मीडिया और अधिकारियों ने बताया कि इसकी चपेट में आने से 34 लोग घायल हो गए। एक 82 वर्षीय व्यक्ति की मौत हो गई। तोकुशिमा के आपदा प्रबंधन के अधिकारी ताकोयाशी सुगीमोटो ने बताया, “लोगों को घरों में रहने को कहा गया है। अभी भी भारी बारिश की आशंका हैं।”

18 बच्चों के ग्रुप को रेस्क्यू किया गया

अधिकारी ने बताया कि नदी का जलस्तर बढ़ जाने से घाटी में 18 बच्चों का एक समूह फंस गया था। इन सभी को रेस्क्यू कर लिया गया। क्रोसा के सप्ताहांत तक कमजोर पड़ने की बात कही गई है। दक्षिणी शिकोकू द्वीप और जापान के अन्य शहरों के बीच के यातायात सेवाओं को रद्द कर दिया गया है।

Loading...

Check Also

आईएस का समर्थन करने पर अमेरिकी नागरिक को 30 साल की सजा

वाशिंगटन :  एक अमेरिकी नागरिक को कुख्यात आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट का समर्थन करना भारी पड़ गया। ...

इसराईल : तीसरी बार आम चुनाव कराने संबंधी कानून पारित

तेल अवीव : इसराईल की संसद (केसेट) ने संसद को भंग करने और दूसरे तथा ...

पुंछ जिले में पाकिस्तान ने किया सीजफायर का उल्लंघन

पुंछ :  पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। पाकिस्तानी सेना ने ...

पर्यावरण कार्यकर्ता ग्रेटा थनबर्ग को टाइम ने चुना ‘पर्सन ऑफ द ईयर’

न्यूयॉर्क :  पृथ्वी पर पर्यावरण संरक्षण की अलख जगाने वाली स्वीडन की 16 वर्षीय पर्यावरण ...