Home / Home / ट्रेन के भीतर मजाकिया लहजे में सामान बेचने वाला अवधेश दुबे को मिली जमानत

ट्रेन के भीतर मजाकिया लहजे में सामान बेचने वाला अवधेश दुबे को मिली जमानत

सूरत :सूरत शहेर का एक अजब ओर गजब किस्सा हमारे सामने आया है। ट्रेन में मोदी, राहुल ओर केजरीवाल का नाम लेकर समान बेचता था एक युवक। लेकिन इन तीनो का नाम लेकर ट्रेन में समान बेचने पर उसकी सूरत पुलिस ने अवधेश दुबे को गिरप्तार कर उसे जेल हवाले कर दिया। लेकिन कुछ दिन बाद उसे सूरत पुलिस ने जमानत दे दी है। कुछ दिनों पहले गुजरात के सूरत में ट्रेन के अंदर मजाकिया लहजे में सामान बेचने वाले अवधेश दुबे का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया था।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, कांग्रेस नेता सोनिया गांधी, राहुल गांधी और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जैसे नेताओं की पैरोडी करते हुए खिलौने बेचते हुए दिख रहा था अवदेश दुबे। तभी पुलिस ने उसे शुक्रवार को छह मिनट की लंबे वीडियो वायरल के बाद सूरत रेलवे पुलिस ने गिरप्तार किया।

अवधेश दुबे को मोबाइल रेलवे अदालत ने बिना लाइसेंस के ट्रेन में सामान बेचने, दूसरों के प्रति अपमानजनक या अश्लील भाषा का उपयोग करने का दोषी ठहराया था और 10 दिन की साधारण कारावास की सजा सुनाई गई थी। लोगों ने अवधेश की इस गिरफ्तारी का विरोध किया।

बाद में सूरत के पुलिस आयुक्त सतीश शर्मा ने पहल की ओर से रिहाह कर दिया। लेकिन जेल से छूटने के बाद सतीश शर्मा ने बताया कि सात सदस्यीय में अवदेश एक एकेला इकलौता कमाने वाला व्यक्ति है जिमकी खबर सुनते सतीश शर्मा दुखी हो गए और उसकी जमानत की प्रक्रिया शुरू कर दी और कुछ दिन बाद उसकी जमानत करवा दी।

लेकिन अगर उसे कुदरत ने मजाक करने की प्रतिभा दी है तो क्यो नही इसे वो फ़िल्म इंड्रस्ट्री में जाकर अपनी लाइफ बनावे। जब सतीश शर्मा ने अवधेश दुबे का बनाया हुआ छह मिनट का कॉमेडी वीडियो देखी तो वो देखकर खुश और आकर्षित हो गए। और अवदेश दुबे की जमानत करवा दी।

लेकिन जमानत मिलने के बाद अवधेश दुबे ने कहा, ‘मुझे लग रहा था कि मैं अपने परिवार के सदस्यों और बच्चों को 10 दिनों तक नहीं देखूंगा। 8 जून तक मैं अपने परिवार से दूर रहूंगा। सोमवार की रात अचानक जेल प्रशासन मेरे बैरक में आया और बताया कि मुझे जमानत दे दी गई है। मैं चौंक गया। यह कैसे हो सकता है? यह किसने किया होगा?

इस गिरफ्तारी के बाद अवधेश दुबे ने ट्रेन में सामान बेचना बंद करके कॉमेडी में करियर बनाने का फैसला किया है। उसने कहा कि मैं टीवी शो के जरिए अपनी प्रतिभा को देश के सामने दिखाना चाहता हूं। कई लोगों ने मुझे मदद का आश्वासन दिया है। मैं सूरत पुलिस का शुक्रगुजार हूं।

Loading...

Check Also

द्वारकाधीश और डाकोर मंदिर समेत घरों तक श्रीकृष्ण जन्मोत्सव की धूम

अहमदाबाद: राज्य के देवभूमि द्वारका में भगवान द्वारकाधीश और डाकोर स्थित रणछोड़राय समेत गुजरातभर के ...