Thursday , June 27 2019
Home / Home / जोर से चिल्लया और मर गया,16 साल का लड़का PUBG खेल रहा था, हेडफोन हटाया

जोर से चिल्लया और मर गया,16 साल का लड़का PUBG खेल रहा था, हेडफोन हटाया

फुरकान 16 साल का था. 12वीं में पढ़ता था. घंटों मोबाइल पर गेम खेलता रहता. सुबह, शाम, दिन, रात, जब समय मिले तब बस गेम गेम गेम. PUBG का खास ख्याल था उसे. एक दिन गेम खेलते-खेलते वो चीखने लगे. बोला- देख, उसने मुझे मार दिया. फिर एकाएक उसकी देहांत हो गई. इतनी एकाएक कि अभी ज़िंदा है और अभी मर गया. परिवार का कहना है, PUBG खेलने की कारण से फुरकान की निधन हुई.

क्या हुआ था उस दिन

फुरकान के पिता हारून राशिद. मध्य प्रदेश के नीमच में रहते हैं. नसीराबाद में रहने वाले उनके भाई के बेटे की निकाह थी. पूरा परिवार यहां इकट्ठा था. 25 को सगाई का प्रोग्राम निपट गया. आगे निकाह थी. 26 की रात को फुरकान ने बाकी दिनों की तरह PUBG खेलना चालू किया. वो सुबह 2 बजे तक लगातार खेलता रहा. फिर सो गया. अगले दिन, यानी 27 मई को फिर सुबह जगा. खाना खाया और फिर दोपहर 12 बजे उसने फिर से PUBG खेलना शुरू कर दिया. शाम 6 बजे तक लगातार खेलता ही रहा. सब इधर-उधर कामों में लगे थे.

घरवाले बताते हैं, वो इतना बस गया गेम में कि सच और झूठ का अंतर नहीं रहा. गेम में उसके खिलाड़ी के साथ कुछ होता तो उसे लगता ये उसके साथ ही हो रहा है. गेम के उसके खिलाड़ी की आइडेंटिटी और फुरकान का वजूद, उसके दिमाग में कोई लकीर नहीं रही. सब गुंथ गया. फिर एक स्टेज आई जब गेम के भीतर PUBG में उसके खिलाड़ी पर धमाका हुआ. फुरकान अपने खिलाड़ी को मरता देखकर जोर-जोर से चिल्लाने लगा. उसकी छोटी बहन फिज़ा उसके साथ थी. उसका कहना है, फुरकान एकाएक बहुत घबरा गया था. चिल्लाते हुए कुछ मिनट बीते थे कि एकाएक उसकी प्राण निकल गई शरीर से. घरवाले फटाफट उसे डॉक्टर के पास ले गए. उन्होंने बताया, फुरकान नहीं रहा.

फुरकान की मौत की कारण PUBG है कि नहीं, हम नहीं जानते. हां, किन्तु ये आवश्यक है कि PUBG खेलने के दौरान एकाएक उसकी मौत हुई

डॉक्टर का क्या कहना है?

नीमच में इंडिया टुडे के पत्रकार आकाश चौहान ने दी है ये खबर. जिन डॉक्टर अशोक जैन के पास फुरकान को ले जाया गया था, उससे बात की आकाश ने. डॉक्टर का कहना है कि कार्डियक अरेस्ट के वजह फुरकान की मौत हुई. डॉक्टर के अनुसार इस तरह के गेम में दिलचस्पी बहुत हाई-लेवल पर पहुंच जाता है. बच्चा उस करेक्टर के साथ इतना जुड़ जाता है कि उसे लगता है वो घटना उसके साथ हो रही है. ऐसी हालत में कार्डियक अरेस्ट हो सकता है.
फुरकान की जान कैसे गई, क्या बता रहा है

फुरकान के पिता हारून कहते हैं

तकरीबन डेढ़ साल पहले फुरकान को PUBG खेलने की आदत लगी. वो दो-तीन घंटे लगातार गेम खेलता रहता. मैं मना करता, किन्तु वो मानता नहीं. जुनून था उसको गेम का. कान में हेडफोन लगाकर गेम खेलते-खेलते जोरों से चिल्लाता- विस्फोट हो जाएगा, उसको मार दो, इसको मार दो. सगाई वाले दिन लगातार छह घंटे यही गेम खेलता रहा वो. उसकी छोटी बहन साथ ही थी उसकी. खेलते-खेलते अचानक चिल्लाने लगा. दो मिनट में लाल पड़ गया उसका शरीर. डॉक्टर के पास लेकर गए उसको, किन्तु वो बचा ही नहीं था.

Loading...

Check Also

मध्यप्रदेश में सत्ता जाते ही भाजपा गुटों से गिरोह में बदली : कांग्रेस

भोपाल : मध्यप्रदेश कांग्रेस मीडिया विभाग की अध्यक्ष श्रीमती शोभा ओझा एवं उपाध्यक्ष अभय दुबे ...