Home / झारखण्ड / खाद्य मंत्री सरयू राय का पत्र, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह से मांगी इस्तीफे की अनुमति

खाद्य मंत्री सरयू राय का पत्र, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह से मांगी इस्तीफे की अनुमति

रांची:बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह से मिलने दिल्ली गए झारखंड सरकार में खाद्य आपूर्ति मंत्री सरयू राय रांची लौट आए। अमित शाह के दिल्ली से बाहर होने के कारण दोनों की मुलाकात नहीं हो सकी। सरयू राय ने शाह के घर पर एक चिट्ठी छोड़ी है। इसमें उन्होंने शाह से इस्तीफे की अनुमति मांगी है। साथ ही जवाब देने के लिए उन्हें 28 फरवरी तक का समय दिया है। पत्र में सरयू राय ने 4 अगस्त 2017 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और 21 अगस्त 2017को अमित शाह से हुई मुलाकात और उस दौरान झारखंड सरकार के बारे में हुई बातचीत का जिक्र किया है। कहा है कि आपसे निवेदन करने मैं दिल्ली आया था। पर आपके दिल्ली से बाहर रहने के कारण यह लिखित निवेदन में छोड़कर जा रहा हूं। आप जब भी आदेश करेंगे, मैं हाजिर हो जाऊंगा। आपसे अनुरोध है कि फरवरी के अंत तक या इससे पूर्व इस बारे में आपका निर्देश मिल जाएगा।
सरयू राय ने पत्र में लिखा है- मैं समझता हूं कि हर व्यक्ति की अपनी कार्यशैली होती है। अपनी प्राथमिकताएं होती हैं। विशेषताएं, खूबियां-खामियां होती हैं। किसी की आलोचना करना मेरा मकसद नहीं है। मेरा निवेदन है कि अगर झारखंड के मुख्यमंत्री की कार्यशैली में, बात-व्यवहार में, प्राथमिकताओं में बदलाव संभव नहीं है तो उनके अनुरूप ढलना मेरे लिए भी संभव नहीं है। केंद्रीय नेतृत्व या राज्य नेतृत्व के पास इस बारे में पहल करने का समय नहीं है तो बेहतर होगा कि मैं केंद्रीय नेतृत्व के समक्ष असमंजस की स्थिति पैदा करने के बदले खुद मंत्रिपरिषद से अलग हो जाऊं, ताकि रोज-रोज के खटपट से, विवाद से और शर्मिंदगी से मुझे छुटकारा मिले। राय ने कहा था कि बर्दाश्त की एक सीमा होती है। अब पानी नाक के ऊपर से बहने लगा है। राज्य सरकार के विभिन्न विभागों में भ्रष्टाचार चरम पर है। बार-बार पत्र लिखने पर भी कार्रवाई नहीं हो रही। प्रदेश में पार्टी के जो लोग उचित स्थान पर हैं, वे भी समाधान नहीं खोजते तो तकलीफ होती है। इस सरकार में रहना शर्मनाक है। मंत्री न रहकर भी पार्टी और समाज का काम किया जा सकता है। ऐसी ही स्थितियों में पहले मैंने संसदीय कार्यमंत्री का पद छोड़ा था।

Loading...

Check Also

साहित्यकार नरेंद्र कोहली का ईमेल हैक करके अनजान ने मांगी मदद, दोस्त ने 1 लाख रु. भेजे

जमशेदपुर. देश के प्रसिद्ध हिन्दी साहित्यकार और पद्मश्री डॉ. नरेंद्र कोहली के ईमेल अकाउंट को किसी हैकर ...