Tuesday , June 18 2019
Home / धर्म / किसी भी युग में कोई नहीं कर सकता इनकी बराबरी,इन योद्धाओं की वजह से महाभारत का युद्ध हो गया अजर-अमर

किसी भी युग में कोई नहीं कर सकता इनकी बराबरी,इन योद्धाओं की वजह से महाभारत का युद्ध हो गया अजर-अमर

महाभारत के युद्ध में कुछ योद्धा इतने शक्तिशाली थे कि उनकी बराबरी करना किसी भी युग में किसी मनुष्य के वश की बात नहीं है। अगर ये तीन योद्धा महाभारत के युद्ध में नहीं होते तो शायद महाभारत का युद्ध इतना बड़ा युद्ध न बनता और इसे सामान्य युद्ध की ही तरह याद किया जाता। आखिर महाभारत के वे शक्तिशाली योद्धा कौन थे आइए जानते हैं इसके बारे में …………..

 

श्रीकृष्ण :-

महाभारत में जिस योद्धा ने सबसे ज्यादा शक्तिप्रदर्शन किया वे थे श्री कृष्ण, उन्होंने युद्ध में बिना किसी हथियार का इस्तेमाल किए अपने बुद्धि कौशल से बड़े-बड़े योद्धाओं को धूल चढ़ाई और सभी को अपने आगे नतमस्तक किया।

द्रोणाचार्य :-

द्रोणाचार्य ने कौरवों और पांडवों को शिक्षा प्रदान की थी और वे ये जानते थे कि किस योद्धा को किस अस्त्र-शस्त्र का ज्ञान है, द्रोणाचार्य को अस्त्र-शस्त्रों का पूरा ज्ञान था इसी वजह से उन्हें युद्ध में परास्त करना किसी के वश की बात नहीं थी, यही कारण था कि द्रोणाचार्य को मारने के लिए पांडवों को छल का सहारा लेना पड़ा।

कर्ण :-

कहते हैं कर्ण जैसा योद्धा होना बहुत मुश्किल है, कर्ण बहुत बुद्धिमान थे और बिना कवच और कुंडल के त्याग के उसे कोई नहीं मार सकता था। इसी वजह से पांडवों ने पहले कर्ण से कवच और कुंडल का त्याग करवाया और इसके बाद उसका वध किया।

Loading...

Check Also

जल्दी कर लें शादी,किस्मत वालों को मिलती है ऐसी वाइफ

शादी-विवाह हर किसी के जीवन में एक ऐसा मोड होता है जो जीवन की राह ...