Home / देश / कांग्रेस-भाजपा दोनों मे से किसी को स्पष्ट बहुमत नहीं मिलता दिख रहा है: सिद्धरमैया

कांग्रेस-भाजपा दोनों मे से किसी को स्पष्ट बहुमत नहीं मिलता दिख रहा है: सिद्धरमैया

बेंगलुरु:कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धरमैया ने सोमवार को कहा कि देश गठबंधन सरकार की तरफ बढ़ रहा है क्योंकि राजनीतिक नेतृत्व के दावों के बावजूद न तो कांग्रेस और न ही भाजपा को स्पष्ट बहुमत मिलता दिख रहा है। उन्होंने कहा कि देश का मिजाज स्पष्ट रूप से सांप्रदायिक और विभाजनकारी ताकतों को खारिज कर संप्रग सरकार को वापस लाने के पक्ष में है। वरिष्ठ कांग्रेसी नेता ने कहा कि दोनों ही राष्ट्रीय दलों में से कोई भी 543 में से 150 सीट के आंकड़े के पार पहुंचने की स्थिति में नहीं हैं, जबकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत भाजपा नेताओं के दावे इससे इतर हैं। उन्होंने कहा कि कर्नाटक में कांग्रेस के अपने सहयोगी जद(एस) के साथ मिलकर राज्य की 28 संसदीय सीटों में से 20 सीटों पर जीत हासिल करने की उम्मीद है। राज्य में 18 अप्रैल को पहले चरण का मतदान होना है।

प्रचार अभियान के दौरान सिद्धरमैया ने कहा, ऐसा लगता है कि कांग्रेस और भाजपा दोनों ही अपने दम पर पूर्ण बहुमत हासिल नहीं कर पाएंगे। संप्रग को स्पष्ट बहुमत मिलेगा। दावों और हकीकत को दो अलग-अलग चीज बताते हुए उन्होंने कहा कि कोई मोदी लहर नहीं है। इसके विपरीत, ऐसे लोगों की तादाद बढ़ रही है जो विभाजनकारी और सांप्रदायिक बलों पर लगाम लगाना चाहते हैं। यह राजग के दूसरे कार्यकाल पर पूर्ण विराम लगा देगा। उन्होंने कहा, मेरे मुताबिक, संप्रग को पर्याप्त सीटें मिलेंगी और वह सबसे बड़े एकल मोर्चे के तौर पर उभरेगा। स्वाभाविक रूप से, दूसरे क्षेत्रीय दल साथ आएंगे। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि महागठबंधन इसलिये बना कि सांप्रदायिक मतों का विभाजन न हो। उन्होंने कहा, यह अभियान भाजपा के खिलाफ है जो एक सांप्रदायिक दल है। सभी धर्मनिरपेक्ष दल जो एक दूसरे से लड़ रहे थे, साथ आए हैं जिससे धर्मनिरपेक्ष दलों के बीच मतों के विभाजन को रोका जा सके। हम सांप्रदायिक दल के खिलाफ लड़ रहे हैं।

सिद्धरमैया राज्य में कांग्रेस-जद(एस) गठबंधन समिति के अध्यक्ष भी हैं। उन्होंने इस बात पर विश्वास जताया कि कांग्रेस कर्नाटक में जद(एस) के साथ मिलकर अच्छा करेगी और भाजपा को यहां आठ से 10 सीटों के बीच समेट देगी। उन्होंने दावा किया कि राज्य में 21 सीटों पर चुनाव लड़ रही कांग्रेस को 13 से 14 सीटों पर जीत हासिल होगी जबकि उसके सहयोगी जद(एस) के साथ मिलकर यह आंकड़ा 20 सीटों के आसपास होगा।

Loading...

Check Also

चुनाव आयोग ने किया साफ-कहा- मतदान के दूसरे दिन किसी की छुट्टी नहीं

मुंबई:चुनाव आयोग ने साफ किया है कि मतदान के दूसरे दिन किसी की छुट्टी नहीं ...