Home / देश / कर्नाटक के हुलियम्मा मंदिर में जाने के लिए आधार कार्ड जरूरी

कर्नाटक के हुलियम्मा मंदिर में जाने के लिए आधार कार्ड जरूरी

मैसुरु : कर्नाटक के बांदीपुर टाइगर रिजर्व के तट पर रहने वाले ग्रामीणों को अब जंगल के अंदर हुलियम्मा मंदिर में पूजा करने और दर्शन करने के लिए अपने आधार कार्ड को साथ रखना जरूरी होगा। वन विभाग के कर्मचारी अब बिना आधार कार्ड के उन्हें यहां प्रवेश नहीं देंगे। हुलियम्मा बेट्टा मंदिर जंगल के दूसरे छोर पर स्थित है। यहां पहुंचने के लिए न केवल भक्त बल्कि आसपास के गांववाले भी शॉर्टकट अपनाते हैं। बांदीपुर टाइगर रिजर्व के निदेशक टी बालाचंद्र ने कहा कि मंदिर में पूजा करने वाले ग्रामीणों को अपने आधार कार्ड की फोटोकॉपी साथ लेकर आनी होगी। उन्होंने बताया कि हम उनके साथ मंदिर जाएंगे।

हम गांव के बुजुर्गों को साथ लेकर चलेंगे। इसके अलावा लोगों को फॉरेस्टरों द्वारा भी सुपवाइज किया जाएगा। 1 सितंबर को गुंडलुपेट तालुक के चौदहल्ली गांव के शिवमदैया जंगल में एक रिश्तेदार के यहां बैलगाड़ी वापस करने गए थे। शाम को वापस आते समय हुलियम्मा मंदिर के पास एक बाघ ने उनके ऊपर हमला किया कर दिया था। यह क्षेत्र गोपालस्वामी बेट्टा वन रेंज के अंतर्गत आता है। हमले में शिवमदैया की मौत हो गई थी। इस घटना के बाद वन विभाग ने मंदिर में जाने के लिए प्रतिबंध लगा दिया है।

Loading...

Check Also

बस्‍तर के जंगल में सर्चिंग के दौरान मिला वर्दीधारी नक्सली का शव

  जगदलपुर : ओडिशा और छत्तीसगढ़ के सरहद पर माओवादियों के सुरक्षित ठिकानों में शुमार ...