Home / हेल्थ &फिटनेस / कढ़ी पत्ते के फायदे और नुकसान

कढ़ी पत्ते के फायदे और नुकसान

कढ़ी पत्ते के फायदे और नुकसान कढ़ी पत्ता एक प्रकार का मसाला होता है और इसका प्रयोग खाना बनाने के दौरान किया जाता है। कढ़ी पत्ते में कई प्रकार के औषधीय गुणों होते हैं और इसे खाने से सेहत पर अच्छा प्रभाव पड़ता है। कढ़ी पत्ते को अंग्रेजी भाषा में करी लीफ जबकि संस्कृत में कृष्णा निंबा के नाम से जाना जाता है।

कढ़ी पत्ते के फायदे

कढ़ी पत्ता खाने से शरीर को क्या फायदे मिलते हैं, इसमें पाए जान वाले पोषक तत्व, इसका प्रयोग किस तरह से किया जाता है और इसके साथ क्या नुकसान जुड़े हुए हैं वो आज हम आपको इस लेख में बताने जा रहे हैं। तो आइए सबसे पहले जानते हैं, कढ़ी पत्ते के फायदे।

सेहत के जुड़े कढ़ी पत्ते के फायदे

शरीर में ना हो एनीमिया की कमी

एनीमिया यानी खून की कमी होने पर आप कढ़ी पत्ते का सेवन करे लें। कढ़ी पत्ता खाने से एनीमिया की बीमारी सही हो जाती है और शरीर में खून की कमी पूरी हो जाती है।

कढ़ी पत्ते के फायदे

एनीमिया की बीमारी का शिकार अधिकतर महिलाएं ही होती हैं। इसलिए महिलाओं को कढ़ी पत्ते का सेवन जरूर करना चाहिए। इसे नियमित रूप से खाने से शरीर में खून का स्तर सही बना रहता है।

डायबिटीज में लाभदायक

डायबिटीज के मरीजों के लिए कढ़ी पत्ता उत्तम साबित होता है और इसे खाने से शरीर में शुगर का स्तर सही बना रहता है। दरअसल कढ़ी पत्ते के अंदर  हाइपोग्लाइसेमिक पाया जाता है। जो कि शुगर लेवल को कम करना का कार्य करता है। इसलिए जिन लोगों को शुगर की बीमारी है वो लोग कढ़ी पत्ता खाया करें। इसे खाने से शुगर कम हो जाएगी ।

कढ़ी पत्ते के फायदे

इसके अलावा जो लोग नियमित रुप से कढ़ी पत्ते का सेवन करते हैं। उन लोगों को डायबिटीज होने का जोखिम कम हो जाता है। इसलिए अगर आपको शुगर की बीमारी नहीं है, तो भी आप इसे खाया करें।

लिवर के लिए फायदेमंद

कढ़ी पत्ते के फायदे

कढ़ी पत्ते के फायदे लिवर के लिए बहुत ही फायदेमंद साबित होते हैं. कढ़ी पत्ते को लिवर के लिए भी कारगर माना जाता है और इसे खाने से लिवर की कार्यक्षमता बढती है। कढ़ी पत्ते में टैनिन और कारबाजोले एल्कलॉइड जैसे तत्व होते हैं, जो कि लिवर के लिए गुणकारी होते हैं और इसे खाने से हेपेटाइटिस और सिरोसिस जैसे रोग होने की संभावना भी कम हो जाती है।

दिल के लिए उत्तम

कढ़ी पत्ते के फायदे

कढ़ी पत्ते के फायदे दिल के संग भी हैं और इसे खाने से दिल सेहतमंद बना रहता है। दरअसल कढ़ी पत्ते के अंदर विटामिन सी, ए और एंटी इंफ्लेमेटरी पाए जाते हैं जो कि हृदय के लिए उत्तम माने जाते हैं। आयुर्वेद में दिल के रोगियों के लिए कढ़ी पत्ते को उत्तम माना गया है और इसका प्रयोग दिल के रोगियों को दी जाने वाली दवा को बनाने में किया जाता है। दिल के अलावा कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने में भी ये कारगर माना जाता है। इसलिए कोलेस्ट्रॉल के रोगी भी इसका सेवन जरूर किया करें।

वजन घटाने मददगार

कढ़ी पत्ते के फायदे

वजन कम करने में भी कढ़ी पत्ता बेहद ही सहायक माना जाता है और इसे खाने से वजन को आसानी से कम किया जा सकता है। इसमें पाए जाने वाले डाइक्लोरोमेथेन, एथिल एसीटेट और महानिम्बाइन जैसे खास तत्व वजन कम करने का कार्य करते हैं। इसलिए जो लोग अधिक वजन से परेशान है वो अपनी डाइट में कढ़ी पत्ते को जोड़ लें।

त्वचा से जुड़े कढ़ी पत्ते के फायदे

कढ़ी पत्ते के फायदे

बैक्टीरियल इन्फेक्शन करे सही

कढ़ी पत्ते को त्वचा के लिए भी अच्छा माना जाता है और कढ़ी पत्ते के फायदे त्वचा के साथ भी जुड़े हुए हैं। कढ़ी पत्ते के तेल के अंदर मौजूद तत्व चेहरे की रक्षा कई प्रकार के बैक्टीरियल इन्फेक्शन से करते हैं। इसलिए जिन लोगों को बार बार चेहरे पर दाने या मुंहासे हो जाते हैं, वो लोग अपने चेहरे पर इसका तेल लगाया करें। ऐसा करने से दाने और मुंहासों की समस्या से उन्हें राहत मिल जाएगी।

जलन करे दूर

त्वचा के जलने या कटने पर आप कढ़ी पत्ते का पेस्ट या तेल प्रभावित जगह पर लगा लें। कढ़ी पत्ते का पेस्ट जली या कटी हुई जगह पर लगाने से आपको आराम मिलेगा और जलन सही हो जाएगी। कढ़ी पत्ते का पेस्ट तैयार करने के लिए आप कुछ हरे कढ़ी पत्ते ले लें और उन्हें अच्छे से पीस लें। फिर इस पेस्ट को प्रभावित जगह पर 15 मिनट के लिए लगा लें।

बालों से जुड़े कढ़ी पत्ते के फायदे

  • कढ़ी पत्ते को बालों के लिए कारगर माना जाता है और इसका सेवन करने से लंबे और घने बाल पाए जा सकते हैं। वहीं आप चाहें तो इसके पानी से भी अपने बाल को धो सकते हैं। कढ़ी पत्ते के पानी से बालों को धोने से बाल मजबूत, लंबे और काले बनें रहते हैं।
  • कढ़ी पत्ते का पानी तैयार करने के लिए आप एक लीटर पानी गैस पर गर्म करने के लिए रख दें। फिर इस पानी के अंदर कुछ कढ़ी पत्ते डाल दें। इस पानी को अच्छे से उबाल लें और ठंडा कर छान लें। इस पानी को आप नहाने के पानी में मिला दें और अपने बाल इससे धो लें।
  • कढ़ी पत्ते के पानी के अलावा आप चाहें तो अपने बालों पर इसका पेस्ट भी लगा सकते हैं। कढ़ी पत्ते का पेस्ट बालों पर लगाने से काले बाल सफेद नहीं होते हैं।

कढ़ी पत्ते के फायदे जानने के बाद आप इससे जुड़े नुकसान भी जरूर पढ़ लें।

कढ़ी पत्ते के नुकसान

  • अधिक मात्रा में कढ़ी पत्ते का सेवन करने से मन खराब हो सकता है। इसलिए आप इसे ज्यादा ना खाएं और हो सके तो हफ्ते के चार दिन ही इसका सेवन करें।
  • गर्भवती महिलाओं के लिए कढ़ी पत्ता हानिकारक माना जाता है। इसलिए जिन महिलाओं ने गर्भ धारण कर रखा है वो महिलाएं कढ़ी पत्ते का सेवन ना करें।
  • बालों पर अधिक कढ़ी पत्ते का तेल लगाने से बाल झड़ने लग जाते हैं। इसलिए आप इसका तेल बालों पर ज्यादा ना लगाएं।
  • कई बार कढ़ी पत्ते को खाने से एलर्जी भी हो जाती है। इसलिए अगर आप इसका सेवन पहली बार कर रहे हैं, तो ये जरूर जांच लें कि इसे खाने से आपको एलर्जी ना हो।

कढ़ी पत्ते का प्रयोग

कढ़ी पत्ते के फायदे

  • कढ़ी पत्ते का प्रयोग आप कई तरह से कर सकते हैं। आप इसे दाल, सब्जी और चावल के अंदर डाल सकते हैं।
  • आप चाहें तो कढ़ी पत्ते की चटनी भी बनाकर खा सकते हैं। इसकी चटनी बनाने के लिए आप कुछ हरे कढ़ी पत्ते लेकर उन्हें अच्छे से पीस लें। फिर इनके अंदर टमाटर और नमक मिल दें और इन सब चीजों को मिक्सी में पीस लें। कढ़ी पत्ते की चटनी बनकर तैयार है।
  • कई लोग कढ़ी पत्ते का पानी भी पीते हैं। इसलिए आप चाहें तो इन्हें पानी में उबालकर उस पानी को भी पी सकते हैं।

कितनी मात्रा में खाएं कढ़ी पत्ता

कढ़ी पत्ते का सेवन आप अधिक मात्रा में ना करें और एक बार 4 से 7 कढ़ी पत्ते ही खाने में डालें। इसके अलावा आप हफ्ते में तीन दिन ही इसका सेवन करें।

कढ़ी पत्ते में पाए जाने वाले पोषक तत्व

कढ़ी पत्ता पोषक तत्वों से भरपूर होता है और इसमें मिलने वाले पोषक तत्वों के नाम इस प्रकार हैं-

  • कैल्शियम
  • फास्फोरस
  • आयरन
  • कैरोटीन
  • निकोटिनिक एसिड
  • विटामिन सी

कढ़ी पत्ते के फायदे पढ़ने के बाद आप इसका प्रयोग खाना बनाते हुए जरूर करें। इसे खाने से आपकी सेहत एकदम सही बनी रहेगी और कई रोगों से आपकी रक्षा भी होगी।

Loading...

Check Also

तांबे के बर्तन का इस्तेमाल इन चीजों को खाने में कभी ना करें

कई लोग तांबे के बर्तन में भोजन करना भी पसंद करते हैं। लेकिन क्या आप ...