Home / मनोरंजन / एक कंजूस पिता ने अपने बेटे को नया चश्मा दिला दिया

एक कंजूस पिता ने अपने बेटे को नया चश्मा दिला दिया

एक कंजूस पिता ने अपने बेटे को नया चश्मा दिला दिया।

अगले दिन बेटा कुर्सी पर बैठा कुछ सोच रहा था

कंजूस पिता बेटा से-क्यों बेटे पढ़ रहे हो?

बेटा-नही पिताजी

कंजूस पिता-तो कुछ लिख रहे हो

बेटा-जी नही पिताजी

पिता गुस्से से-तो फिर चश्मा उतार क्यों नही देते

तुम्हें फिजूलखर्ची की आदत पड़ गई है क्या।

——————————

 

रामलाल पार्टी से रात को देर से घर गया।

अगले दिन दोस्तों ने उससे पूछा-वाइफ ने कुछ कहाँ तो

नही ना भाई

रामलाल-ना भाई कुछ खास नही

ये अपना सिर तो मुझे फोड़ना ही था।

Loading...

Check Also

कहां हम कहां तुम : धूमधाम से हुई रोहित-सोनाक्षी की रोका सेरेमनी, जल्द होगी शादी

स्टार प्लस का शो कहां हम कहां तुम इन दिनों अपने कंटेंट के कारण बहुत ...