Sunday , July 21 2019
Home / Home / उत्तराखण्ड : गैरसैंण में भूमि खरीद पर रोक हटाने के विरोध में सड़कों पर कांग्रेस

उत्तराखण्ड : गैरसैंण में भूमि खरीद पर रोक हटाने के विरोध में सड़कों पर कांग्रेस

देहरादून: उत्तराखण्ड की प्रस्तावित राजधानी गैरसैंण में भूमि खरीद-फरोख्त पर लगी रोक हटाने को लेकर कांग्रेस पूरी तरह सरकार पर हमलावर हो गई है। इसी के तहत शनिवार को कांग्रेस प्रदेशभर के जिला मुख्यालयों में सरकार के खिलाफ पुतला फूंक कर प्रदर्शन किया। साथ ही इस आदेश लेने को वापस लेने की मांग करते हुए आंदोलन की चेतावनी दी।
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह के निर्देश पर गैरसैंण में जमीनों की खरीद-फरोख्त पर लगी रोक हटाये जाने के जन विरोधी निर्णय एवं गैरसैण में आन्दोलनकारियों की गिरफ्तारी के विरोध में आज कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने राज्यभर में विरोध प्रदर्शन किया। इस मौके पर प्रदर्शनकारियों ने भाजपा सरकार की नीतियों पर हमला बोला और प्रदेश सरकार से अपना निर्णय वापस लेने की मांग की। कांग्रेस का कहना है कि भाजपा राज्य निर्माण के सपनों के विपरीत कार्य कर रही है।
महानगर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष लालचन्द शर्मा के नेतृत्व में देहरादून में राज्य सरकार का पुतला दहन किया गया। इस मौके पर कांग्रेसजनों ने राज्य की भाजपा सरकार पर उत्तराखण्ड राज्य निर्माण आन्दोलन की भावना की अनदेखी करने का आरोप लगाया। कहा कि भाजपा सरकार द्वारा राज्य की प्रस्तावित राजधानी गैरसैंण में तत्कालीन कांग्रेस सरकार द्वारा जमीनों की खरीद-फरोख्त पर लगाई गई रोक हटाया जाना उत्तराखण्ड राज्य के प्रति भाजपा की नीयत और नीतियों को दर्शाता है। भाजपा सरकार के इस फैसले  राज्य निर्माण आन्दोलन की भावना को ठेस पहुंचाने वाला है। कांग्रेस नेताओं ने गैरसैंण राजधानी के मामले में भाजपा सरकार की मंशा  पर सवाल उठाते हुए कहा कि राज्य की जनता में आक्रोश बना हुआ है।
प्रदर्शनकारियों ने कहा कि भाजपा सरकार के इस निर्णय से न केवल राज्य निर्माण की भावनाओं के साथ शहीदों और आन्दोलनकारियों का भी अपमान हुआ है। गैरसैंण राज्य निर्माण आन्दोलन की आत्मा कही जाती है, जिसका सम्मान करते हुए तत्कालीन कांग्रेस सरकार द्वारा जनभावना को देखते हुए गैरसैंण में भूमि की खरीद-फरोख्त पर प्रतिबन्ध लगाते हुए निर्माण कार्य प्रारम्भ करवाये गए। भाजपा की वर्तमान सरकार ने गैरसैंण में जमीनों की खरीद-फरोख्त पर लगी रोक हटाकर राज्य निर्माण की जनभावना को आहत करने का काम किया है।
भाजपा सरकार ने अपने इस जन विरोधी निर्णय से भविष्य में गैरसैंण को राज्य की राजधानी बनाने के सपने को ग्रहण लगा दिया है। कांग्रेस पार्टी भाजपा सरकार के इस निर्णय का विरोध करती है तथा जनभावनाओं के अनुरूप मांग करती है कि गैरसैंण में पूर्व में लागू भू कानून को यथावत रखा जाय अन्यथा कांग्रेस पार्टी सड़कों पर उतर कर इसका विरोध करेगी।
इस अवसर पर पूर्व विधायक राजकुमार, पूर्व विधायक गणेश गोदियाल, महानगर अध्यक्ष लालचन्द शर्मा, पूर्व मंत्री अजय सिंह, प्रदेश प्रवक्ता गरिमा दसौनी, पीसीसी सदस्य राजेश चमोली, प्रदेश सचिव राजेश पाण्डे, डाॅ. विजेन्द्र पाल, किशन कुमार वर्मा, डाॅ. प्रतिमा सिंह, रेणु नेगी, आनन्द त्यागी, प्रवीण त्यागी, नागेश रतूड़ी, अल्पसंख्यक के ताहिर अली, महेश जोशी, देवेन्द्र सती, भरत शर्मा, महानगर महिला अध्यक्ष कमलेश रमन, सीताराम नौटियाल, सुलेमान अली, लाखीराम बिजलवाण सहित अन्य कांग्रेसजन उपस्थित थे।
Loading...

Check Also

शीला दीक्षित के निधन पर शोक में डूबा बॉलीवुड, अक्षय-कंगना ने दी श्रद्धांजलि

कांग्रेस की वरिष्ठ नेता शीला दीक्षित का शनिवार को निधन हो गया। वे 81 साल ...