Saturday , March 23 2019
Home / हेल्थ &फिटनेस / अगर आपको भी नजर आ रहे है ये 5 लक्षण तो आप है डिप्रेशन में, भूलकर भी ना करे इसे नजरअंदाज

अगर आपको भी नजर आ रहे है ये 5 लक्षण तो आप है डिप्रेशन में, भूलकर भी ना करे इसे नजरअंदाज

वर्तमान समय में इंसान की लाइफस्टाइल काफी बदल चुकी है जिसकी वजह से अधिकतर लोग डिप्रेशन का शिकार होते जा रहे हैं| लोग अपने कामक्षेत्र के प्रेशर और घरेलू जिम्मेदारियों के बोझ के नीचे इतना दब गए हैं कि वह ना चाहते हुए भी चिंता और तनाव में बने रहते हैं| जब इंसान पर तनाव काफी हद तक बढ़ जाता है, तो वह मानसिक रोग रूप ले लेता है, जिसे हम डिप्रेशन के रूप में जानते हैं| विश्व स्वास्थ्य संगठन की एक रिपोर्ट के अनुसार कुछ आंकड़े सामने आए हैं जिसमें भारत के लगभग 6.5 फ़ीसदी लोग डिप्रेशन का शिकार है| बताना चाहेंगे कि भारत का यह आंकड़ा दुनिया के अन्य देशों के मुकाबले सबसे ज्यादा है|

वर्तमान समय में अधिकतर लोगों को पैसों से जुड़ी चिंता के कारण डिप्रेशन का शिकार होना पड़ रहा है| हालांकि लोग डिप्रेशन के लक्षणों को समझ नहीं पाते जिसके बाद एक स्थिति ऐसी आती है जब वह मानसिक रोग के शिकार हो जाते हैं| जब इंसान डिप्रेशन का शिकार होने लगता है, तो शुरुआत में पांच लक्षण ऐसे दिखाई देते हैं जिन्हें आप देखकर सावधान हो सकते हैं और किसी मानसिक रोग विशेषज्ञ की सलाह ले सकते हैं|

1. चिड़चिड़ा स्वभाव

 

अगर कोई व्यक्ति तनाव में रहता है तो उसका स्वभाव चिड़चिड़ा हो जाता है| चिड़चिड़ा स्वभाव होने पर मन और मस्तिष्क में लगातार नकारात्मक विचार उत्पन्न होते रहते हैं| कई बार आप देखते हैं कि तनाव ग्रसित व्यक्ति भावनात्मक बातें भी करते हैं, तो उनकी बातों में दुख और चिड़चिड़ापन नजर आता है|

2. बेवजह गुस्सा

 

वर्तमान समय में किसी भी इंसान को गुस्सा आना बेहद सामान्य बात हो गई है| कई बार जब इंसान तनाव की गिरफ्त में आ जाता है, तो उसे बिना किसी वजह के भी बार-बार गुस्सा आने लगता है| कई बार गुस्से में वह आक्रामक हो जाते हैं और लड़ने झगड़ने में भी पीछे नहीं रहते| कई बार ऐसे व्यक्तियों का गुस्सा परिवार के सदस्यों पर निकलता हुआ नजर आता है| ऐसे में तनाव ग्रस्त व्यक्ति स्वयं को अधिक प्रभावी दिखाने की कोशिश करता है|

3. नींद पर असर

 

तनाव में रहने से नींद पर काफी गहरा प्रभाव पड़ता है| इससे दो तरह के मामले सामने आ सकते हैं या तो व्यक्ति बेहद ज्यादा सोने लगता है या फिर बेहद कम| कई बार 10 से 12 घंटे सोने के बावजूद भी व्यक्ति थका थका महसूस करता है| इसके साथ ही वह अधिकतर समय गुमसुम और उदास रहते हैं| इतना ही नहीं बल्कि किसी भी कार्य को करने में उनका मन नहीं लगता|

4. दर्द की समस्या

 

जब कोई इंसान तनाव में रहता है तो शरीर में कई तरह के परिवर्तन होना संभव है जैसे कि कब्ज, डायरिया, सिर दर्द, कमर दर्द इत्यादि| इन बातों पर अक्सर तनाव ग्रसित व्यक्ति ध्यान नहीं दे पाता कि आखिर किस वजह से शारीरिक और पेट से जुड़ी समस्याएं उत्पन्न हो रही है|

5. निर्णय ले पाना

 

तनाव ग्रसित व्यक्ति अक्सर असमंजस की स्थिति में बने रहते हैं और सही निर्णय नहीं ले पाते या उन्हें निर्णय लेने में काफी परेशानी होती है| इसका सीधा संकेत है कि वह डिप्रेशन का शिकार हो गए हैं| अगर आपको भी लगता है कि आप डिप्रेशन का शिकार हो गए हैं या आपके स्वभाव में अचानक समस्या उत्पन्न होने लगी है, तो उन पर गौर करते हुए आपको तुरंत डॉक्टर से संपर्क कर सलाह लेनी चाहिए|

Loading...

Check Also

ज्यादातर पढ़ी-लिखी महिलाएं अपनी शैक्षिक योग्ताओं को बर्बाद नहीं होने देना चाहती

अवन्तिका को शुरू से ही नौकरी करने का शौक था. ग्रेजुएशन के बाद ही उसने ...